Home /News /punjab /

punjab theft of electricity by putting a police station the government issued orders to cut the connection

पंजाब: तीन दर्जन पुलिस थाने कर रहे थे बिजली चोरी, सरकार ने जारी किए कनेक्शन काटने के आदेश

पंजाब के कई हिस्सों में लोगों को पावर कट का सामना कर रहे हैं, जिसे देखते हुए मान सरकार ने बिजली चोरी करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) ने धार्मिक डेरों, पुलिसकर्मियों और गांवों में स्थापित अवैध इकाइयों से जुड़े करोड़ों रुपये की बिजली चोरी का पता लगाया है.

पंजाब के कई हिस्सों में लोगों को पावर कट का सामना कर रहे हैं, जिसे देखते हुए मान सरकार ने बिजली चोरी करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) ने धार्मिक डेरों, पुलिसकर्मियों और गांवों में स्थापित अवैध इकाइयों से जुड़े करोड़ों रुपये की बिजली चोरी का पता लगाया है.

पंजाब के कई हिस्सों में लोगों को पावर कट का सामना कर रहे हैं, जिसे देखते हुए मान सरकार ने बिजली चोरी करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) ने धार्मिक डेरों, पुलिसकर्मियों और गांवों में स्थापित अवैध इकाइयों से जुड़े करोड़ों रुपये की बिजली चोरी का पता लगाया है.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) ने राज्य में बिजली चोरी करने वाले तीन दर्जन से अधिक पुलिस थानों के कनेक्शन काटने के आदेश जारी किए हैं. ये थाने लंबे समय से चोरी की हुई बिजली का उपभोग कर रहे थे, जिससे राज्य सरकार को लाखों की चपत लगने का अंदेशा है. इनमें अधिकांश थाने अमृतसर, गुरदासपुर और संगरूर के हैं. बिजली चोरी करने की मुहिम के तहत अभी तक विभाग ने लोगों के कनेक्शन काट कर लगभग 88 लाख रुपए का जुर्माना वसूल किया है.

राज्य में धान की रोपाई की फसल के मद्देनजर सरकार को बिजली की आपूर्ति करने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है. नतीजन किसान बिजली के मुद्दे पर सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने को आमदा हैं. राज्य के कई हिस्सों में लोगों को पावर कट का सामना करना पड़ रहा है, जिसे देखते हुए सरकार ने बिजली चोरी करने वालों पर शिकंजा कस रखा है. विभाग के कर्मचारी बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ सुबह पांच बजे से ही फील्ड में उतर रहे हैं. 
करोड़ों रुपये के राजस्व का हो रहा है नुकसान
सीएम के निर्देशों का पालन करते हुए पीएसपीसीएल ने हाल ही में चलाए अभियान में धार्मिक डेरों, पुलिसकर्मियों और यहां तक कि गांवों में स्थापित अवैध इकाइयों से जुड़े करोड़ों रुपये की बिजली चोरी का पता लगाया है. बिजली चोरी के मामले में पीएसपीसीएल का तरनतारन सर्कल, पंजाब में सबसे ऊपर है, जिससे सालाना 300 करोड़ रुपये से अधिक के राजस्व का संभावित नुकसान होता है.
रोजाना 3 करोड़ रूपये की हो रही है बिजली चोरी
अमृतसर उपनगरीय सर्कल और फिरोजपुर सर्कल को 175 करोड़ रुपये के राजस्व का संभावित नुकसान हुआ है. तीसरा स्थान सीएम के गृह नगर संगरूर और बठिंडा को जाता है, जिसमें प्रत्येक को 125 करोड़ रुपये का संभावित राजस्व नुकसान होता है. एक रिपोर्ट के मुताबिक लोग पीएसपीसीएल आपूर्ति लाइनों से प्रति दिन 3 करोड़ रुपये की बिजली की चोरी कर रहे हैं, ग्रामीण पंजाब में 66.66% बिजली चोरी के कारण वितरण नुकसान होता है.

Tags: Electricity, Power Crisis, Punjab Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर