लाइव टीवी

लाहौर तक भारत का विस्तार करने पर RSS नेता इंद्रेश कुमार ने मांगी राय, छात्रों से पूछा ये सवाल
Chandigarh-Punjab News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 15, 2020, 7:28 PM IST
लाहौर तक भारत का विस्तार करने पर RSS नेता इंद्रेश कुमार ने मांगी राय, छात्रों से पूछा ये सवाल
इंद्रेश कुमार ने कहा है कि क्या हमारे ग्रंथों में भारत का टूटना ही लिखा है?

राष्ट्रीय मुस्लिम एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंद्रेश कुमार (Indresh Kumar) ने बड़ा बयान दिया है. इंद्रेश कुमार ने कहा है कि क्या हमारे ग्रंथों में भारत का टूटना ही लिखा है? भारत का विस्तार भी हो सकता है. क्या आप लाहौर तक जाना नहीं चाहते हैं?

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2020, 7:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)  के वरिष्ठ प्रचारक और राष्ट्रीय मुस्लिम एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंद्रेश कुमार (Indresh Kumar) ने बड़ा बयान दिया है. इंद्रेश कुमार ने कहा है कि क्या हमारे ग्रंथों में भारत का टूटना ही लिखा है? भारत का विस्तार भी हो सकता है. क्या आप लाहौर तक जाना नहीं चाहते हैं? कुमार ने क्रिश्चियन देशों और मुस्लिम देश पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के खिलाफ भी अल्पसंख्यकों पर जुल्म बंद करने को लेकर नारे लगवाए. कुमार ने कहा कि क्या ऐसी मानवता को सेल्यूट करेंगे? इंद्रेश कुमार शनिवार को चंडीगढ़ में एक इंजीनियरिंग कॉलेज के 50 साल पूरे होने के मौके पर बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई के 50 सालों के मौके पर चंडीगढ़ आया हूं. लगता है कि 60 साल पूरे होने के मौके पर यह कार्यक्रम लाहौर में होगा.

'क्या आप लाहौर तक जाना नहीं चाहते हैं?' 

आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत जब जम्मू-कश्मीर की बात करता है तो पीओके (POK) भी उसका हिस्सा होता है और लेह-लद्दाख भी. ऐसा करके हमने पाकिस्तान और चीन से पूरी तरह से पंगा ले रखा है. ये हिस्से अब उनसे वापस भी लेने होंगे. इंद्रेश कुमार ने खालिस्तान की मांगने वालों को भी जमकर लताड़ लगाई. कुमार ने कहा कि अगर खालिस्तान बनाना है तो सिखों के कई पवित्र स्थल पाकिस्तान में हैं. खालिस्तान बिना गुरु की नगरी लाहौर के नहीं बन सकता और खालिस्तान बनानों वालों को लाहौर भी पाकिस्तान और ननकाना साहिब से लेना होगा.

सारा हिन्दुस्तान खालिस्तान है और सारा खालिस्तान हिंदुस्तान है. हिंदुस्तान को छोटा करने में क्यूं लगे हो. हम ही हिंदुस्तान का नाम बदलकर खालिस्तान रख लेंगे. देश को बड़ा करो. इस देश के वैसे भी की नाम है एक खालिस्तान और रख लेंगे. राजनीति के चक्कर में देश को बांटने की बात मत करो. CAA का विरोध करने वाले देश विरोधी और देशद्रोही हैं.'



rss, indresh kumar, Rashtriya Suraksha Jagran Manch,PAKISTAN, POK, JAMMU KASHMIR, LEH LADDAKH, LAHORE, राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच, आरएसएस, इंद्रेश कुमार, एनआरसी, पीओके, बलूचिस्तान, लाहौर, पाकिस्तान, जम्मू-कश्मीर, चीन, पीओके, भारत का विस्तार, जश्न की तैयारी लाहौर में, खालिस्तान, ननकाना साहिब, चंडीगढ़ RSS leader Indresh Kumar sought opinion on expanding India to Lahore Pakistan pok and jammu kashmir students asked these questions nodrss
इंद्रेश कुमार ने कहा कि राजनीति के चक्कर में देश को बांटने की बात मत करो.


CAA के समर्थन में नारे लगवाए

इंद्रेश कुमार ने कार्यक्रम में CAA के समर्थन में नारे लगवाए. इंद्रेश कुमार ने कहा कि अगर किसी स्कूल कॉलेज में रजिस्टर होता है और वहां पर सब पढ़ने वालों का आंकड़ा होता है. वोटर लिस्ट में होता है तो देश के नागरिकों का रजिस्टर क्यों नहीं बनना चाहिए. बापू ने घोषणा की थी कि भारत का विभाजन मेरी चिता पर होगा. कांग्रेस के नेताओं ने रावी का पानी हाथ में लेकर सौगंध भी खाई, लेकिन अंग्रेजों ने जिन्ना और नेहरू के प्रधानमंत्री के मोह को देखते हुए धर्म के नाम पर देश का बंटवारा करवा दिया. कांग्रेस ने देश को आजादी नहीं दिलवाई बल्कि देश का विभाजन करवा दिया अब कोई कहता है कि कांग्रेस ने देश को आजादी दिलवाई मुझे उसकी बौद्धिक क्षमता पर संदेह है.

कुमार ने कहा कि देश विभाजन के वक्त ही CAA का जन्म हुआ था. बापू ने उसी वक्त कहा था कि विभाजन के बाद पाकिस्तान में हमारे अल्पसंख्यक हिंदू और सिख सुरक्षित नहीं है और उन्हें भारत को नागरिकता दे देनी चाहिए. अगर अब कोई CAA का विरोध कर रहा है तो वो बापू की इस बात का विरोध कर रहा है.

rss, indresh kumar, Rashtriya Suraksha Jagran Manch,PAKISTAN, POK, JAMMU KASHMIR, LEH LADDAKH, LAHORE, राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच, आरएसएस, इंद्रेश कुमार, एनआरसी, पीओके, बलूचिस्तान, लाहौर, पाकिस्तान, जम्मू-कश्मीर, चीन, पीओके, भारत का विस्तार, जश्न की तैयारी लाहौर में, खालिस्तान, ननकाना साहिब, चंडीगढ़ RSS leader Indresh Kumar sought opinion on expanding India to Lahore Pakistan pok and jammu kashmir students asked these questions nodrss
इंद्रेश कुमार ने कार्यक्रम में CAA के समर्थन में नारे लगवाए.


'पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू और सिख सुरक्षित नहीं है'

बाद में इस बात को लेकर तमाम सरकारों में चर्चा की गई. अटल जी की सरकार में 24 दलों ने मिलकर कहा था कि अल्पसंख्यक जो पाकिस्तान और अन्य मुस्लिम देशों से दर्द सह कर आ रहे हैं, उन्हें नागरिकता 2003-04 में दे दी जाए. देश के तमाम जिलाधिकारी को निर्देश दे दिए गए. तब ना किसी मुस्लिम ने विरोध किया ना कांग्रेस ने, लेकिन सरकार बदलने के बाद सरदार स्वर्ण सिंह (मनमोहन सिंह) और सोनिया गांधी की सरकार आ गई. तब भी नागरिकता देने की बात हुई लेकिन तब कोई विरोध नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें: 

कुमार विश्वास को भी चोरों ने नहीं बख्शा, घर के आगे से लग्जरी गाड़ी चोरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2020, 6:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर