लाइव टीवी

देश में असुरक्षित नहीं हैं सिख, अगर हैं तो केंद्र सरकार का दोष: अमरिंदर सिंह

News18Hindi
Updated: January 7, 2020, 5:43 PM IST
देश में असुरक्षित नहीं हैं सिख, अगर हैं तो केंद्र सरकार का दोष: अमरिंदर सिंह
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि अकाली दल को तुरंत प्रभाव से केंद्र सरकार से अलग हो जाना चाहिए. (फाइल फोटो)

अकाल तख्त (Akal Takht) के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh) ने कहा है कि सिख न तो भारत में और न ही पाकिस्तान में सुरक्षित हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2020, 5:43 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने ट्वीट कर कहा कि उन्हें नहीं लगता कि देश में सिख (Sikhs) असुरक्षित हैं और उन्हें किसी तरह का खतरा है. लेकिन फिर भी अगर अकाल तख्त (Akal Takht) के जत्थेदार यह बात कह रहे हैं और उन्हें लगता है कि सिख देश में असुरक्षित है तो पूरा दोष केंद्र सरकार का है. अकाली दल (Akali Dal) को तुरंत प्रभाव से केंद्र सरकार से अलग हो जाना चाहिए और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल (Harsimrat Kaur Badal) को भी अपने केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.

सिख न पाकिस्तान और न भारत में सुरक्षित: ज्ञानी हरप्रीत सिंह
गौरतलब है कि श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कहा कि सिख न तो भारत में और न ही पाकिस्तान में सुरक्षित हैं.

वहीं रविवार को जेएनयू में हुई हिंसा पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि चाहे उनका नाता किसी पार्टी से हो दोषियों को सजा मिलनी चाहिए. सिंह ने कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि अनेक विश्वविद्यालय परिसरों में हिंसा की घटनाओं ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि खराब कर दी है और देश की शिक्षा प्रणाली को बड़ा नुकसान पहुंचाया है. सिंह ने घटना पर दिल्ली पुलिस पर भी सवाल खड़े किये.

उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी पूछा कि उन्होंने इस घटना पर केवल ट्वीट करके नाराजगी क्यों जताई और हालात पर काबू पाने के लिए कोई प्रभावी हस्तक्षेप क्यों नहीं किया. सिंह ने कहा, ‘‘वह मौके पर क्यों नहीं पहुंच सके? क्या उनके लिए रोष जताने के लिए ट्वीट करना काफी था। मुख्यमंत्री के रूप में, और इससे भी अधिक महत्वपूर्ण है कि दिल्ली के नागरिकों के कल्याण का संरक्षक होने का दावा करने वाले शख्स ने व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप क्यों नहीं किया?’’

ये भी पढ़ें-

ननकाना साहिब हमले पर BJP सांसद मीनाक्षी लेखी ने पूछा-कहां भाग गए सिद्धू पाजी

ननकाना साहिब पर हमले से देशभर में गुस्‍सा, SGPC का प्रतिनिधिमंडल जाएगा PAK

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 5:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर