सब-इंस्पेक्टर खुदकुशी मामला: थाने की छत से छलांग लगाने वाले SI का सुसाइड नोट वायरल, लिखीं ये बातें

News18Hindi
Updated: September 3, 2019, 10:51 PM IST
सब-इंस्पेक्टर खुदकुशी मामला: थाने की छत से छलांग लगाने वाले SI का सुसाइड नोट वायरल, लिखीं ये बातें
सांकेतिक तस्वीर

गुलजार सिंह के खिलाफ मालखाने से ढाई लाख रुपए मिसिंग होने के मामले में विभागीय जांच चल रही थी. इस वजह से वह मानसिक तौर से परेशान रहने लगे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2019, 10:51 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़ (Chandigarh) में 28 अगस्त को थाने के छत से छलांग लगाकर जान देने वाले सब इंस्पेक्टर  (Sub Inspector) गुलजार सिंह (Gulzar Singh) का सुसाइड नोट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. जानकारी के मुताबिक, गुलजार सिंह के खिलाफ मालखाने से ढाई लाख रुपए मिसिंग होने के मामले में विभागीय जांच चल रही थी. इस वजह से वह मानसिक तौर से परेशान रहने लगे थे.

सब इंस्पेक्टर ने छोड़ा था ये सुसाइट नोट
अमर उजाला की वेबसाइट में छपी खबर के मुताबिक, सुसाइड नोट में लिखा है कि मुझे झूठा फंसाया गया है. जून 2014 से थाना-26 में बतौर माल खाना मुंशी तैनात था. 31 दिसंबर 2016 को एएसआई बना. इसके बाद अक्तूबर 2017 को मेरी बदली कर सेक्टर-24 पुलिस चौकी में कर हेड कांस्टेबल दलबीर सिंह को लगाया गया था. बाद में सेक्टर-19 थाने में हो गई. 26 नंवबर 2018 को मेरी रवानगी थाना 19 में कर दी. मेरी जगह हवलदार ओम प्रकाश को लगाया गया, लेकिन उसने भी चार्ज नहीं लिया. इसके बारे में मैंने एसएचओ को बताया तो एसएचओ मैडम ने कहा कि मैं जल्दी ही किसी के पक्के आर्डर कर दूंगी.



झूठा इल्जाम से था परेशान
जनवरी 2018 को एक हवलदार का सेक्टर-26 थाने के माल खाना मुंशी के आर्डर हुए. मैं जब सेक्टर-26 थाने चार्ज देने गया तो माल खाना मुंशी ने कहा कि मालखाने में पैसे कम हैं. मैंने चार्ज देना शुरू किया तो एसएचओ मैडम ने मुझे नोटिस दे दिया कि माल खाने से साढ़े तीन लाख के करीब पैसे कम हैं. पहले इन पैसों को तुमने ही पूरा करना है. मेरे ऊपर झूठा इल्जाम लगाया फिर भी मैंने पूरे पैसे इनके हवाले कर दिए. इस वजह से मेरा पूरा परिवार भी परेशान होने लगा. 4-5 महीने से उस काम की सजा भुगत रहा, जो मैंने किया ही नहीं. मेरी 34 साल की नौकरी में आज तक किसी प्रकार की शिकायत नहीं है.

मैं एसएसपी साहब से निवेदन करता हूं कि जब मालखाना का पूरा चार्ज अगले मुंशी को दिया जाए, पहले वाले की रवानगी मत करना नहीं तो मेरे ही तरह कोई नाजायज मुंशी आत्महत्या न करे.
Loading...

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 10:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...