पंजाब सरकार ने जारी की द पंजाब न्यूज वेब चैनल पॉलिसी, यूट्यूब न्यूज चैनलों को मिलेगी मान्यता

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

नीति की अन्य शर्तों और नियमों के अलावा पंजाब आधारित न्यूज चैनल (News Channel)जिनमें मुख्य तौर पर 70 प्रतिशत खबरें पंजाब से संबंधित होती हैं, को सूचीबद्ध करने के लिए विचार किया जाएगा

  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब सरकार ने न्यूज वैब चैनलों को सूचीबद्ध करने के लिए ‘द पंजाब न्यूज वेब चैनल पॉलिसी (2021’ The Punjab News Web Channel Policy 2021) नोटीफाई की है. पंजाब सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि यह समय की मांग है कि पंजाब सरकार की नीतियों (Policies of the Punjab Government) के प्रचार के लिए आज के युग के इन मंचों का उपयुक्त प्रयोग किया जाए. प्रवक्ता ने बताया कि सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक और यूट्यूब (Facebook and Youtube) पर चल रहे न्यूज चैनलों को इस नीति के अंतर्गत कवर किया जाएगा.

इन शर्तो पर मिलेंगे सरकारी विज्ञापन
नीति की अन्य शर्तों और नियमों के अलावा पंजाब आधारित न्यूज चैनल (News Channel)जिनमें मुख्य तौर पर 70 प्रतिशत खबरें पंजाब से संबंधित होती हैं, को सूचीबद्ध करने के लिए विचार किया जाएगा. इस नीति के अंतर्गत सूचना एवं लोक संपर्क विभाग द्वारा सूचीबद्ध किये जाने वाले चैनल सिर्फ़ राजनैतिक इंटरव्यू या खबरों, डेली न्यूज बुलेटिन, बहस या चर्चा विशेषकर संपादकीय इंटरव्यू और पंजाब संबंधी खबरों के दौरान ही सरकारी विज्ञापन प्रदर्शित करेंगे.

Youtube Video

ज़िक्रयोग्य है कि पंजाब सरकार के पास अखबार, सैटेलाइट टी.वी चैनलों, रेडियो चैनलों और वेबसाइटों के लिए एक विज्ञापन नीती पहले से ही मौजूद है. यह नई नीति मौजूदा प्रचलन और फेसबुक और यूट्यूब चैनलों की व्यापक उपलब्धता के मद्देनज़र लाई गई है. इससे राज्य सरकार को और ज्यादा लोगों तक कल्याण योजनाओं संबंधी जागरूकता फैलाने में और मदद मिलेगी.



ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में लॉकडाउन के डर से रेलवे स्टेशनों पर भीड़, शुरू की नई ट्रेनें

नीति संबंधी विस्तृत नियम और शर्तें सूचना सूचना एवं लोक संपर्क विभाग, पंजाब से प्राप्त की जा सकतीं हैं या विभाग की वेबसाइट से भी डाउनलोड की जा सकतीं हैं. गौरतलब है कि वर्तमान में पंजाब में यू ट्यूब और वेब चैनलों की भरमार है, जो इस वक्त पंजाब की रोजाना खबरों को कवर कर रहे हैं. आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान पंजाब सरकार इन वेब चैनलों के माध्यम से अपनी उपलब्धियों का प्रचार प्रसार कर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज