होम /न्यूज /पंजाब /

पाकिस्तान में बैठे आतंकी रिंदा के 3 गुर्गे गिरफ्तार, ड्रोन से आए हथियार और गोला बारूद बरामद

पाकिस्तान में बैठे आतंकी रिंदा के 3 गुर्गे गिरफ्तार, ड्रोन से आए हथियार और गोला बारूद बरामद

पुलिस ने कहा कि प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि जब्त किए गए विस्फोटकों और हथियारों का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस पर किया जाना था (फोटो-news18)

पुलिस ने कहा कि प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि जब्त किए गए विस्फोटकों और हथियारों का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस पर किया जाना था (फोटो-news18)

Punjab Terror: आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम, शस्त्र अधिनियम, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और विमान अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. उसके दो सहयोगियों संदीप सिंह उर्फ काला और गुरप्रीत सिंह उर्फ रंधावा को भी गिरफ्तार किया गया है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

इन तीनों के तार पाकिस्तान में बैठे आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा से जुड़े हैं
अक्टूबर 2020 में अज्ञात हमलावरों ने संधू की गोली मारकर हत्या कर दी थी
विस्फोटकों और हथियारों का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस पर किए जाने की प्लानिंग थी

(एस. सिंह)

चंडीगढ़. पंजाब पुलिस ने शौर्य चक्र से सम्मानित बलविंदर सिंह संधू हत्याकांड के मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. जांच में खुलासा हुआ है इन तीनों के तार पाकिस्तान में बैठे आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा से जुड़े हैं. आरोपियों की निशानदेही पर  इनके पास से एक हथगोला, एक आरडीएक्स-आईईडी, दो .30 बोर की पिस्टल, मैगजीन, 13 कारतूस, 635 ग्राम हेरोइन, 100 ग्राम अफीद बरामद किए गए.

फिरोजपुर रेंज के महानिरीक्षक (आईजी), जसकरण सिंह और तरनतारन के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) रंजीत सिंह ढिल्लों ने मीडिया को बताया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के भगोड़ा अपराधी (पीओ) गुरविंदर सिंह ने शूटर्स को शौर्य चक्र विजेता को मारने के लिए हथियार मुहैया करवाए थे. अक्टूबर 2020 में तरनतारन में अज्ञात हमलावरों ने संधू की गोली मारकर हत्या कर दी थी. उन्हें 1993 में पंजाब में खालिस्तानी उग्रवाद से लड़ने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था.

उन्होंने कहा कि जांच से पता चला है कि गुरविंदर गैंगस्टर सुखप्रीत सिंह उर्फ हैरी चट्टा और सुखमीत पाल सिंह उर्फ सुख बिखारीवाल का करीबी सहयोगी है, जो शौर्य चक्र पुरस्कार विजेता की हत्या का मुख्य संदिग्ध है. गुरविंदर अपने सहयोगी संदीप के साथ सफेद लांसर कार में खडूर साहिब जा रहा था, जब पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया. जांच में पाया गया है कि जब्त विस्फोटक और हथियारों की तस्करी पाकिस्तान से ड्रोन के माध्यम से तस्करी की गई थी.

आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम, शस्त्र अधिनियम, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और विमान अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. उसके दो सहयोगियों संदीप सिंह उर्फ काला और गुरप्रीत सिंह उर्फ रंधावा को भी गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने कहा कि प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि जब्त किए गए विस्फोटकों और हथियारों का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस पर या उसके आसपास राज्य में शांति और सद्भाव को बाधित करने के लिए किया जाना था.

Tags: Terrorist

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर