पंजाब के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पानी घटने लगा, अब महामारियां फैलने की आशंका

भाषा
Updated: August 23, 2019, 9:27 PM IST
पंजाब के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पानी घटने लगा, अब महामारियां फैलने की आशंका
पंजाब में बाढ़ (फाइल फोटो)

जालंधर के मेडिकल अधिकारी ए एस दुग्गल ने बताया कि राज्य के स्वास्थ्य प्रशासन की मुख्य चिंता बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से पानी चले जाने के बाद संक्रामक रोगों के फैलने की है.

  • Share this:
पंजाब (Punjab) के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों (Flood Hit Areas) खासकर जालंधर, रोपड़ और फिरोजपुर जिलों में शुक्रवार को बाढ़ का पानी घटने लगा और अब व्यापक बीमारियां के फैलने का अंदेशा पैदा हो गया है. अधिकारियों ने बताया कि पिछले दो दिनों से वर्षा नहीं होने से बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पानी घटने लगा है.

अधिकारियों के अनुसार, सेना और एनडीआरएफ के जवान लोगों को बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने में लगातार जुटे हुए हैं. जालंधर के मेडिकल अधिकारी ए एस दुग्गल ने बताया कि राज्य के स्वास्थ्य प्रशासन की मुख्य चिंता बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से पानी चले जाने के बाद संक्रामक रोगों के फैलने की है.

उन्होंने कहा कि वैसे कई लोग अतिसार, आंत्रशोथ, कवकीय (फंगल) संक्रमण और त्वचा रोग की चपेट में आ भी गये हैं एवं उनका विभिन्न शिविरों में इलाज चल रहा है. उन्होंने कहा कि विभिन्न बीमारियों के फैलने की आशंका है. जल जनित बीमारियों के मामले आने वाले दिनों में बढ़ेंगे.

हाल की वर्षा तथा भाखड़ा बांध से अत्यधिक पानी छोड़े जाने के बाद पंजाब में सतलुज एवं उसकी सहायक नदियों का पानी लुधियाना, जालंधर, फिरोजपुर और रूपनगर के गांवों में पानी घुस गया तथा फसलें नष्ट हो गयी एवं निचले क्षेत्रों में मकान ध्वस्त हो गया.

अधिकारियों के अनुसार दो दिनों से वर्षा नहीं होने पर पंजाब और हरियाणा की उफनती नदियों में पानी घटने लगा है लेकिन सैंकड़ों एकड़ क्षेत्र में लगी फसलें पानी में डूबी हुई हैं और गांव जलमग्न हैं. पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने यह सुनिश्चित करने के लिए कड़े निर्देश जारी किए हैं कि राज्य में खासकर निचले क्षेत्रों में किसी भी रोग को फैलने से रोकने के लिए समग्र कदम उठाये जाएं.

ये भी पढ़ें-

बांध टूटने से जालंधर के 20 गांवों में बाढ़, मदद की गुहार
Loading...

पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड में 1789 वैकेंसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 9:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...