होम /न्यूज /पंजाब /चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी मामला: पंजाब पुलिस ने एक फौजी को किया गिरफ्तार, ये है शक

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी मामला: पंजाब पुलिस ने एक फौजी को किया गिरफ्तार, ये है शक

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वायरल वीडियो मामले में चौथे आरोपी एक फौजी को गिरफ्तार किया गया है.

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वायरल वीडियो मामले में चौथे आरोपी एक फौजी को गिरफ्तार किया गया है.

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि फोरेंसिक और डिजिटल सबूतों के आधार पर एसएएस नगर से पुलिस टीम को आरोपी को गिरफ्तार करने के ल ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

चंडीगढ़. पंजाब के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (Chandigarh University) में छात्राओं का नहाते हुए वायरल वीडियो मामले में पंजाब पुलिस ने चौथी गिरफ्तारी की है. पंजाब पुलिस के डायरेक्टर जनरल (DGP) गौरव यादव ने जानकारी की कि पंजाब पुलिस ने शनिवार को अरुणाचल प्रदेश में तैनात एक फौजी जवान को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किये गए फौजी की पहचान संजीव सिंह के तौर पर हुई है, जिस पर छात्रा को ब्लैकमेल करने का शक है.

यूनिवर्सिटी मामले में पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Punjab CM Bhagwant Mann) उच्च स्तरीय जांच के लिए, एडीजीपी कम्युनिटी अफेअर्स डिवीज़न और महिला मामलों संबंधी गुरप्रीत कौर दिओ की समूची निगरानी में तीन सदस्यीय आल वूमैन स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया था. यह कार्रवाई एसआईटी के गठन के हुक्म दिए जाने के कुछ दिन बाद सामने आई है.

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि फोरेंसिक और डिजिटल सबूतों के आधार पर एसएएस नगर से पुलिस टीम को आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए अरुणाचल प्रदेश रवाना किया गया था. उन्होंने बताया कि आरोपी फौजी जवान को अरुणाचल प्रदेश पुलिस, असम पुलिस और अरुणाचल प्रदेश के आर्मी अधिकारियों के सहयोग से अरुणाचल प्रदेश के सेला के पास से गिरफ्तार किया गया. एसएएस नगर पुलिस ने आरोपी को एसएएस नगर के मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने के लिए चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट (सीजेएम) बोमडीला की अदालत से दो दिन का ट्रांजिट रिमांड भी हासिल कर लिया है.

एसएएस नगर पुलिस ने पहले ही छात्रा समेत तीन और हिमाचल प्रदेश से दो और व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है और उनके कब्जे में से कुछ इलेक्ट्रानिक यंत्र बरामद किये गए हैं. बता दें कि एसपी काउन्टर इंटेलिजेंस लुधियाना रुपिन्दर कौर भट्टी के नेतृत्व वाली एसआईटी द्वारा दो सदस्यों डीएसपी खरड़-1 रुपिन्दर कौर और डीएसपी एजीटीएफ दीपिका सिंह के सहयोग से मामले की तेजी से जांच की जा रही है. डीजीपी पंजाब ने कहा कि इस मामले में दोषियों को बख्‍शा नहीं जायेगा और इंसाफ होगा.

Tags: Chandigarh, Punjab news, Viral video

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें