होम /न्यूज /पंजाब /पंजाब सरकार ने कॉन्‍ट्रेक्‍ट पर रखे 8 हजार से ज्‍यादा शिक्षकों को दिया दिवाली तोहफा, होंगे रेगुलर

पंजाब सरकार ने कॉन्‍ट्रेक्‍ट पर रखे 8 हजार से ज्‍यादा शिक्षकों को दिया दिवाली तोहफा, होंगे रेगुलर

पंजाब में कॉन्‍ट्रेक्‍ट पर रखे गए शिक्षक होंगे नियमित.

पंजाब में कॉन्‍ट्रेक्‍ट पर रखे गए शिक्षक होंगे नियमित.

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने इस बात पर जोर दिया कि विद्यार्थियों के अच्‍छे भविष्य के लिए अध्यापकों की रोजी-रोटी को सुरक्षित ...अधिक पढ़ें

चंडीगढ़. पंजाब की भगवंत मान सरकार ने ठेके पर रखे गए 8 हजार से ज्‍यादा शिक्षकों को दिवाली का तोहफा दिया है. सरकार ने पंजाब में ठेके पर काम कर रहे 8736 अध्यापकों की सेवाएं रेगुलर करने के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. वहीं लगातार मांग कर रहे शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल ने इस फैसले से खुश होकर मुख्‍यमंत्री को धन्‍यवाद दिया है.

शिक्षकों के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने सेवाएं रेगुलर करने की लम्बे समय से लटकती आ रही मांग को स्वीकार करने पर कहा कि पिछली सरकारों ने इस मुद्दे को लटकाये रखा लेकिन भगवंत मान सरकार ने सभी रुकावटों को दूर करके उनको रेगुलर करने का रास्ता साफ कर दिया है. प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि वह इस ऐतिहासिक प्रयास के लिए मुख्यमंत्री के हमेशा आभारी रहेंगे.

मुख्यमंत्री ने अध्यापकों को नोटिफिकेशन की कॉपी सौंपते हुये उनके साथ विस्‍तार से बातचीत की और कहा कि 8736 अध्यापकों की सेवाएं रेगुलर करने का नोटिफिकेशन जारी किया जा चुका है और अब वह राज्य सरकार का हिस्सा बन चुके हैं. भगवंत मान ने अफसोस जाहिर करते हुये कहा कि ये अध्यापक पिछले लंबे समय से ठेके के आधार पर काम कर रहे थे. यहां तक कि इनमें से कुछ अध्यापक पिछले 14 सालों से अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं.

मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि विद्यार्थियों के अच्‍छे भविष्य के लिए अध्यापकों की रोजी-रोटी को सुरक्षित किया जाना जरूरी है. उन्होंने कहा कि इस तथ्य को ध्‍यान में रखते हुये उन्होंने इन अध्यापकों की सेवाएं रेगुलर करने का फैसला लिया. भगवंत मान ने अध्यापकों को न्योता दिया कि वह अपने विद्यार्थियों को कान्वेंट स्कूलों में पढ़ते विद्यार्थियों के साथ मुकाबला करने के काबिल बनाने के लिए अपनी ड्यूटी और भी मेहनत के साथ निभाएं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्यार्थियों को हर क्षेत्र में प्राप्तियां हासिल करने के लिए प्रेरित करना चाहिए. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अध्यापकों की सेवाएं सिर्फ अध्यापन कामों के लिए ही लेने का फैसला किया है. भगवंत मान ने अध्यापकों को बधाई देते हुये भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं.

Tags: Bhagwant Mann, Diwali, Teacher

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें