पंजाब में चुनाव से पहले सीएम कैंडिडेट अनाउंस करेगी AAP, पंजाबी होगा चेहरा

दिल्ली के 33 निजी अस्पतालों में 25 प्रतिशत आईसीयू और समान्य बेड्स बढ़ा दिए गए हैं.

दिल्ली के 33 निजी अस्पतालों में 25 प्रतिशत आईसीयू और समान्य बेड्स बढ़ा दिए गए हैं.

Punjab News: भगवंत मान ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी आंदोलनकारी किसानों को सजा देना चाहते हैं. जबकि किसान हार मानने वाले नहीं हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 9:55 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने पंजाब में होने वाले 2022 चुनाव के लिए कमर कस ली है. पार्टी ने घोषणा की है कि इस चुनाव में सीएम कैंडिडेट (CM Candidate) का चेहरा पहले ही निर्धारित कर लिया जाएगा. आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद भगवंत मान और पार्टी के पंजाब प्रभारी जरनैल सिंह (Bhagwant Mann and Jarnail Singh) ने कहा है कि संभावित सीएम कैंडिडेट पंजाबी ही होगा और इसकी घोषणा चुनाव से पहले ही कर दी जाएगी.

FCI के नए खरीद नियमों का विरोध
भगवंत मान ने एफसीआई (Food Corporation of India) के उस प्रस्ताव की भी निंदा की है जिसमें कहा गया है कि गेहूं व धान की खरीद के लिए नमी को 14 फीसद से घटाकर 12 फीसद किया जाए. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार कृषि कानूनों को लेकर किए जा रहे आंदोलन के कारण किसानों को परेशान करने की रणनीति तैयार कर रही है. यही वजह है कि किसानों की फसलों की खरीद के नियमों को सख्त किया जा रहा है. मान ने कहा कि एफसीआई के नए खरीद नियमों से किसानोंं की परेशानी बढ़ेगी. उन्होंने ओराप लगाया कि मोदी सरकार किसानों का गला घोंटने का प्रयास कर रही है.

Youtube Video

किसानों का दमन कर रही है केंद्र सरकार


मान ने यह भी दावा किया कि केंद्र सरकार ने हाल ही में एक अधिसूचना जारी की है जिसमें कहा गया कि एमएसपी (MSP) केवल उन किसानों को दिया जाएगा जिनका भूमि रिकार्ड सरकार के पास है. उन्होंने कहा कि पंजाब के छोटे किसान लीज पर भूमि लेकर खेतीबाड़ी करते हैं. सरकार ने यह अधिसूचना ऐसे समय में जारी की है जब किसानों की नई फसल आने में एक ही माह का समय बचा है.

भगवंत मान ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी आंदोलनकारी किसानों को सजा देना चाहते हैं, जबकि किसान हार मानने वाले नहीं हैं. किसानों के प्रति सरकार जितनी ज्यादा दमनकारी नीतियां लागू करेगी वे उतने ही मजबूत होकर उभरेंगे. उन्होंने यह भी जानकारी दी कि अरविंद केजरीवाल (Arvind kejariwal) 21 मार्च को पंजाब आ रहे हैं,और किसानों की महा पंचायत को संबोधित करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज