Home /News /punjab /

BSF के अधिकार क्षेत्र को लेकर पंजाब के सीएम चरणजीत चन्नी ने 25 को बुलाई सर्वदलीय बैठक

BSF के अधिकार क्षेत्र को लेकर पंजाब के सीएम चरणजीत चन्नी ने 25 को बुलाई सर्वदलीय बैठक

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) पंजाब बॉर्डर पर अब 50 किलोमीटर अंदर तक कार्रवाई कर पाएगी.

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) पंजाब बॉर्डर पर अब 50 किलोमीटर अंदर तक कार्रवाई कर पाएगी.

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Chief Minister Charanjit Singh Channi) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र (jurisdiction of the BSF) को लेकर पुरानी स्थिति बहाल करने की मांग की है.

अधिक पढ़ें ...

    चंडीगढ़. पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Chief Minister Charanjit Singh Channi) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को सरहद के पास बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र (jurisdiction of the BSF) को लेकर 11 अक्तूबर की नोटिफिकेशन से पहले की स्थिति बहाल करने की मांग की है, जिससे बीएफएफ और पंजाब पुलिस देश की एकता और अखंडता की रक्षा के लिए देश विरोधी ताकतों के खिलाफ एकजुट होकर काम कर सकें. चन्नी ने प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर मीटिंग के लिए समय देने की अपील की है. मुख्यमंत्री ने इस मामले में 25 अक्टूबर को सर्वदलीय बैठक (all-party meeting) भी बुलाई है.

    प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में चन्नी ने जानकारी दी कि बीएसएफ को अंतरराष्ट्रीय सरहद (international border) की सुरक्षा करने और सामने होकर रक्षा करने की ड्यूटी करने का प्रशिक्षण मिलता है. उन्होंने आगे बताया कि देश के अंदर अमन-कानून की हिफाजत करने की ड्यूटी और जिम्मेदारी प्रांतीय या स्थानीय पुलिस की बनती है. इसके अलावा पंजाब पुलिस अमन-कानून की किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूर्ण तौर पर समर्थ है. मुख्यमंत्री ने बताया कि पंजाब पुलिस ने गत समय में भी आतंकवाद का प्रभावशाली ढंग से सामाना किया और पंजाब पुलिस और केंद्रीय एजेंसियों के दरमियान प्रभावी तालमेल के बिना यह संभव नहीं था. उन्होंने कहा कि हाल ही में बीएसएफ और पंजाब पुलिस के दरमियान बेहतर तालमेल स्वरूप नशा तस्करों और आतंकवादियों के खिलाफ सफलतापूर्वक साझे ऑपरेशन शुरू किए गए है.

    उन्होंने प्रधानमंत्री को जानकारी दी कि राज्य सूची के अंतर्गत पुलिस और अमन-कानून प्रांतीय विषय हैं और इनको राज्यों द्वारा देखा जा रहा है. जिक्रयोग्य है कि पंजाब की पाकिस्तान के साथ 425 किलोमीटर लम्बी अंतरराष्ट्रीय सरहद है और सरहदी जिलों जैसे कि पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, तरनतारन, फिरोजपुर, फाजिल्का के कुल क्षेत्र का 80 प्रतिशत से अधिक क्षेत्र समेत सभी प्रमुख कस्बे और शहर भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सरहद से 50 किलोमीटर के क्षेत्र में आते हैं.

    Tags: BSF, Punjab news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर