कोरोना महामारी के कारण पंजाब में घटी बीयर और शराब की बिक्री
Amritsar News in Hindi

कोरोना महामारी के कारण पंजाब में घटी बीयर और शराब की बिक्री
पंजाब में घटी शराब ि‍बिक्री.

पंजाब (Punjab) में शराब ठेकेदारों ने पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में दो महीने मई और जून के दौरान अपने आवंटित कोटे से 60 प्रतिशत कम माल उठाया.

  • Share this:
चंडीगढ़. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है. इस महामारी के कारण देश के विभिन्‍न उद्योग धंधे प्रभावित हो रहे हैं. इसका असर पंजाब (Punjab) में बीयर (Beer) और शराब (Liquor) की बिक्री पर भी पड़ा है. राज्‍य में गर्मियों के दौरान बीयर की बिक्री महामारी के कारण घट गई है. शराब ठेकेदारों ने पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में दो महीने मई और जून के दौरान अपने आवंटित कोटे से 60 प्रतिशत कम माल उठाया. अधिकारियों ने कहा कि ठेकेदारों द्वारा उठाया गया कोटा काफी हद तक बिक्री में बदल जाता है. जबकि जून में खरीद में तेजी देखी गई थी, लेकिन मई 2020 के आंकड़ों के साथ दो महीने का समय बीयर की बिक्री के लिए खराब रहा है.

इंडियन मेड फॉरेन लिकर (आईएमएफएल) की बिक्री भी महामारी के कारण प्रभावित हुई है. शराब के ठेकेदारों ने पिछले साल मई और जून की तुलना में इस साल मई और जून में आईएमएफएल का 31 फीसदी कम कोटा उठाया है. इसके साथ ही पंजाब मेड लिकर (पीएमएल) की बिक्री में इसी अवधि में लगभग 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

इंडियन एक्‍सप्रेस की खबर के मुताबिक एक सरकारी अधिकारी ने कहा, 'आईएमएफएल की बिक्री में गिरावट कोविड-19 के मद्देनजर शादी के कार्यों में भारी गिरावट के कारण है. इस अवधि के दौरान आईएमएफएल की बिक्री काफी हद तक शादी समारोह पर आधारित रहती थी.' हालांकि, शराब की बिक्री के कारोबार में वरिष्ठ पद पर कार्यरत एक कर्मचारी ने कहा कि महामारी के दौरान कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने को बीयर की कम बिक्री के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था क्योंकि कॉलेज के समय में बीयर के प्रमुख उपभोक्ता छात्र हुआ करते हैं.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार शराब ठेकेदारों ने मई में बीयर के 63,000 गत्‍ते उठाए. इस साल जून में बीयर के 6.57 लाख गत्‍ते उठाए. इसकी तुलना में 2019 में ठेकेदारों ने मई में 3.62 लाख और जून में 5.35 लाख गत्‍ते उठाए थे. जबकि पिछले साल की तुलना में जून में वृद्धि हुई थी, लेकिन अगर दोनों महीनों को ध्यान में रखा जाए तो बीयर के गत्‍तों को उठाने में कुल गिरावट 60 फीसदी है. अकेले मई में ही पिछले साल की तुलना में 82 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज