पंजाब: स्कूल-कॉलेज खोलने से पहले स्टूडेंट्स-टीचर्स और स्टाफ का होगा वैक्सीनेशन

सरकार ने स्वास्थ्य अधिकारियों (Health officials) को 21 जून से इस मुहिम को तेज करने के आदेश जारी किए हैं.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने विभाग को यह सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए हैं कि सभी सह-रोगों वाले और दिव्यांग व्यक्तियों और सरकारी कर्मचारियों का पहल के आधार पर टीकाकरण किया जाए.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब के स्कूलों और कॉलेजों (Schools and colleges) को खोलने से पहले 18-45 उम्र वर्ग के टीचर्स, नॉन-टीचिंग स्टाफ और स्टूडेंट्स (Non-teaching staff and students) का वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) किया जाएगा. सरकार ने स्वास्थ्य अधिकारियों (Health officials) को 21 जून से इस मुहिम को तेज करने के आदेश जारी किए हैं, ताकि शिक्षण संस्थानों (Educational institutions) को सुरक्षित तरीके से खोला जा सके.

    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने विभाग को यह सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए हैं कि सभी सह-रोगों वाले और दिव्यांग व्यक्तियों और सरकारी कर्मचारियों का पहल के आधार पर टीकाकरण किया जाए. उन्होंने कहा कि होटल उद्योग, पार्लर और दुकानों, रेस्टोरेंट, जिम समेत सर्विस आउटलेट आदि के स्टाफ को भी जल्द टीका लगाया जाए.

    कोविशील्ड की दो डोज के बीच अंतर बढ़ाने की सलाहकार समूह ने नहीं की थी सिफारिश : रिपोर्ट

    मुख्यमंत्री ने कहा कि न्यायिक अधिकारियों और वकीलों को भी टीकाकरण के लिए पहल दी जाए जिससे आम अदालती कामकाज सुरक्षित ढंग से फिर से शुरू हो सके. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को टीकाकरण के लिए बच्चे को दूध पिलाने वाली माताओं की शिनाख्त करने के लिए भी कहा है, जिससे उनका टीकाकरण निर्धारित किया जा सके.

    पंजाब ने 18-45 उम्र वर्ग के लिए एक टीकाकरण रणनीति बनाई है जिसमें गरीबों और जरूरतमंदों को प्राथमिकता दी गई है. मुख्यमंत्री ने संतोष जताया कि राज्य सरकार की तरफ से करीब 1 लाख सह-रोगों वाले नौजवानों, 3.5 लाख नौजवान निर्माण कामगारों और अन्य कामगारों का मुफ्त टीकाकरण किया गया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों के 70,000 से अधिक नौजवान पारिवारिक सदस्यों को टीकाकरण के लिए पहल दी गई है जबकि रेहड़ी -छोटी दुकान वालों, बस चालकों, दुकानदारों और अन्य जरूरतमंद श्रेणियों को राज्य सरकार की तरफ से टीका लगाया जा रहा है.

    Decoding Long Covid: कैंसर के मरीज़ों के लिए कैसे खतरा बन रहा है कोरोना? ऑन्कोलॉजिस्ट ने बताया

    स्वास्थ्य सचिव हुसन लाल ने बताया कि राज्य को 18-45 उम्र वर्ग के लिए अब तक कोविशील्ड की 5,86,000 खुराकें प्राप्त हुई हैं, जिसमें से 5,30,610 का प्रयोग किया जा चुका है और राज्य के पास 55,390 खुराकों का स्टॉक पड़ा है. इसके साथ ही कोवैक्सीन की 150850 खुराकें प्राप्त हुई हैं और 66040 का प्रयोग किया गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.