Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान 26 नवंबर को पहुंचेंगे दिल्ली

    किसान मजदूर संघर्ष समिति का 'रेल रोको' आंदोलन (तस्वीर- ANI)
    किसान मजदूर संघर्ष समिति का 'रेल रोको' आंदोलन (तस्वीर- ANI)

    कृषि कानूनों (Farms Act) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान 'दिल्ली चलो' मार्च के तहत राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाले पांच राजमार्गों से होते हुए 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 20, 2020, 10:48 AM IST
    • Share this:
    चंडीगढ़. केन्द्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान 'दिल्ली चलो' मार्च (Kisaan Aandolan) के तहत राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाले पांच राजमार्गों से होते हुए 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे. अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, राष्ट्रीय किसान महासंघ और भारतीय किसान संघ के विभिन्न धड़ों ने तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने के लिये केन्द्र सरकार पर दबाव बनाने के उद्देश्य से साथ मिलकर संयुक्त किसान मोर्चा बनाया है.

    इस मोर्चे को 500 से अधिक किसान संगठनों का समर्थन हासिल है. विभिन्न किसान नेताओं ने 26 नवंबर के दिल्ली चलो मार्च के संबंध में गुरुवार को बैठक की.

    मोर्चे के कामकाज में समन्वय बनाए रखने के लिये सात सदस्यीय समिति का भी गठन किया गया है. समिति के सदस्य तथा स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेन्द्र यादव ने यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 26 नवंबर किसान पांच राजमार्गों अमृतसर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग (कुंडली सीमा), हिसार-दिल्ली राजमार्ग (बहादुरगढ़), जयपुर-दिल्ली राजमार्ग (धारूहेड़ा), बरेली-दिल्ली राजमार्ग (हापुड़) और आगरा-दिल्ली राजमार्ग (बल्लभगढ़) से होते हुए शांतिपूर्वक दिल्ली की ओर बढेंगे.

    इस आंदोलन में तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश के किसान भी प्रदर्शन में शामिल होंगे. बताया गया कि पंजाब के किसान संगठन हर गांव से 11 ट्रैक्टर लेकर दिल्ली आएंगे. (भाषा इनपुट के साथ)
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज