अपना शहर चुनें

States

जंगली शिकार करने के लिए मजबूर कर रहा था पिता, गुस्साए बेटे ने मार दी गोली

जंगली शिकार करने के लिए मजबूर कर रहा था पिता, गुस्साए बेटे ने मार दी गोली . (सांकेतिक फोटो)
जंगली शिकार करने के लिए मजबूर कर रहा था पिता, गुस्साए बेटे ने मार दी गोली . (सांकेतिक फोटो)

बीते रविवार को इसी बात को लेकर पुत्र और पिता के बीच बहस हो गई. बेटे सुखविंदर ने गुस्से में आकर दोनाली से अपने पिता जसपाल को गोली मार दी. गोली जबड़े को छूती हुई निकल गई, लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2021, 11:37 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के बलाचौर में एक बेटे ने अपने पिता को गोली मार दी. गंभीर रूप से घायल हुए पिता को चंडीगढ़ के पीजीआईएमईआर (Post Graduate Institute of Medical Education & Research) में भर्ती किया गया है. पुलिस ने इस मामले में आर्म्स एक्ट व आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया है. पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सुखविंदर के पिता जसपाल सिंह अपने पोते व बेटे को गैरकाननू तौर पर शिकार पर ले जाना चाहते थे.

बीते रविवार को इसी बात को लेकर पुत्र और पिता के बीच बहस हो गई. बेटे सुखविंदर ने गुस्से में आकर दोनाली से अपने पिता जसपाल को गोली मार दी. गोली जबड़े को छूती हुई निकल गई, लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गए. जसपाल सिंह भाट अपने बेटे सुखविंदर सिंह व पोते को शिकार पर ले जाने की जिद्द कर रहे थे. सुखविंदर न ही खुद और न ही अपने बेटे को शिकार करने देना चाहता था. इसी बात को लेकर सुखविंदर सिंह उर्फ वलैती ने लाइसेंसी दोनाली से अपने पिता जसपाल सिंह को गोली मार दी.

जसपाल सिंह की पत्नी गुरमीत कौर ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके बेटे सुखविंदर सिंह को पिता के साथ शिकार पर जाना पसंद नहीं था. इसके अलावा एक महिला से पिता की दोस्ती भी सुखविंदर को रास नहीं आ रही थी. इसी वजह से रोजाना घर में झगड़ा चल रहा था. पोते ने बताया कि उसके दादा शिकार के लिए उसे जबरदस्ती ले जाने की जिद्द करते थे. यही नहीं मना करने पर उसके साथ मारपीट की जाती थी. बलाचौर सिटी थाना पुलिस की ओर से आईपीसी की धारा 307 के तहत केस दर्ज कर सुखविंदर सिंह उर्फ वलैती को गिरफ्तार कर अगली कार्रवाई शुरू कर दी गई है. पुलिस ने जसपाल सिंह के घर से एक जानवर की टांगें व कुछ मीट भी बरामद किया है. इस बारे में वन विभाग के अधिकारियों को भी सूचित कर दिया गया है. ताकि उचित कार्रवाई की जा सके.
इसे भी पढ़ें :- पंचायत का फरमान- किसान आंदोलन में परिवार के एक सदस्य का जाना जरूरी, नहीं गए तो 2 हजार रुपये जुर्माना



ऑनरेरी वाइल्ड लाइफ वार्डन निखिल सेंगर का कहना है कि बरामद किए मांस व टांगें सांभर की होने की संभावना है. आरोपी के घर से सांभर या किसी ऐसे जानवर का मीट या अंग मिले हैं, तो उसके खिलाफ वाइल्ड लाइफ एक्ट की धाराओं के तहत भी मामला दर्ज किया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज