कोरोना की चपेट में आए पंजाब के पूर्व डिप्टी CM सुखबीर सिंह बादल, सात दिन में कर चुके दो बड़ी रैलियां

सुखबीर सिंह बादल. (पीटीआई फाइल फोटो)

सुखबीर सिंह बादल. (पीटीआई फाइल फोटो)

Sukhbir Singh Badal News: शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 9:55 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus infection) रफ्तार पकड़ने लगा है. इसी दौरान सूबे के पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir singh Badal) भी कोरोना (corona) की चपेट में आ गए हैं. बादल पिछले सात दिनों में दो बड़ी राजनैतिक रैलियां कर चुके हैं जिनमें हजारों लोगों ने हिस्सा लिया था. इनमें एक बड़ी रैली जलालाबाद और दूसरी रैली खेमकरण में आयोजित की गई थी. पंजाब में कोरोना के मामलों की संख्या 20 हजार तक पहुंचने वाली है, हालांकि अभी यह मामले 199573 हैं.

कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सुखबीर बादल ने इसकी जानकारी ट्वीट करके दी है. उन्होंने कोरोना पॉजिटिव आने के बाद खुद को आइसोलेट कर लिया है. उन्होंने कहा, 'मैं सभी लोगों को यह सूचित करना चाहता हूं कि मेरी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मेरा स्वास्थ्य ठीक है और कोरोना प्रोटोकॉल के तहत मैंने स्वयं को आइसोलेट कर लिया है.' इसके साथ ही उन्होंने पिछले कुछ दिनों में उनके संपर्क में आए लोगों से खुद को आइसोलेट करने और कोविड जांच कराने को कहा है.

Youtube Video




इससे पहले महामारी की चपेट में राज्य के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल (Manpreet Singh Badal) आए थे. वह भी प्रोटोकॉल के मुताबिक आइसोलेशन में ही चल रहे हैं. वित्त मंत्री ने फेसबुक पर लिखा था 'मेरा कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया है और मैं आने वाले दिनों में क्वारंटाइन में रहूंगा.' उन्होंने संपर्क में आए लोगों से सतर्क रहने की अपील की थी.

डीएसपी और पूर्व विधायक की हो चुकी है मौत
बीते रविवार को कोरोना के कारण पूर्व विधायक तथा एसजीपीसी सदस्य सुखदर्शन सिंह मराड़ (79) की मौत हो गई थी. मराड़ को शुगर, बीपी व सांस लेने में समस्या थी. वह एक सप्ताह से बीमार होने के कारण फरीदकोट अस्पताल में दाखिल थे. पंजाब में जालंधर के शाहकोट में तैनात डीएपी वरिंदपाल सिंह (DSP Varindpal singh) की कोरोना वायरस (Coronavirus) की चपेट में आने से बीते रविवार सुबह मौत हो गई थी. कुछ दिन पहले उनका स्वास्थ्य खराब चल रहा था. जिसके बाद उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया तो वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. उधर पंजाब के अमृतसर जिला प्रशासन ने किसी भी सामाजिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कोविड-19 जांच की नेगेटिव रिपोर्ट या कोरोना वायरस रोधी टीका लगवाने का प्रमाण अनिवार्य कर दिया है. इस कदम का मकसद संक्रमण के प्रसार को रोकना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज