पंजाब में गैंगवार: रंजिश के कारण आपस में भिड़े दो गुट, ताबड़तोड़ फायरिंग में 2 की मौत

डीएसपी (DSP) कुलजिंदर सिंह और थाना प्रभारी लखबीर सिंह ने मौके पर पहुंच कर शवों को कब्जे में ले लिया है. मामले की जांच चल रही है.

Punjab Latest news: पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृतकों की पहचान अमन फौजी व पूरन नामक गैंगस्टर के रूप में हुई है. जबकि घायल हुए व्यक्ति का नाम शेरा बताया जा रहा है.

  • Share this:
    चडीगढ़. पंजाब के तरनतारन (Tarn Taran in Punjab) में गुरुवार को गैंगवार में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग (Rapid firing) में दो गैंगस्टरों (Gangsters) की मौके हो गई जबकि एक गैंगस्टर गंभीर रूप से घायल हो गया है. जिसे उपचार के लिए अस्पताल (Hospital) में भर्ती करवाया गया है.

    पुलिस मामले की जांच (Investigation) में जुटी हुई है. पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृतकों की पहचान अमन फौजी व पूरन नामक गैंगस्टर के रूप में हुई है. जबकि घायल हुए व्यक्ति का नाम शेरा बताया जा रहा है. घटना तरनतारन पट्‌टी के नदोहर चौक की जहां पर गैंगस्टरों के गुटों में फायरिंग हुई है. घटना में अमन फौजी व पूरन नामक गैंगस्टर की मौके पर मौत हो गई. मृतक अनमदीप सिंह फौजी, पूरन सिंह और घायल शमशेर शेरा एक ही गैंगस्टर गुट से संबंधित हैं जबकि दुसरे गुट का अभी पता नहीं चल पाया है.

    आपसी रंजिश के कारण हुई दोनों गुटों में गैंगवार
    पुलिस इस बात की भी छानबीन कर रही है कि दोनों गुटों में क्रास फायरिंग हुई थी या एक तरफ से ही गालियां चलीं. गैंगवार की यह घटना रंजिश के चलते हुई है. राहगीरों के सूचना देने के बाद ही पुलिस घटनास्थल पर पहुची थी. डीएसपी (DSP) कुलजिंदर सिंह और थाना प्रभारी लखबीर सिंह ने मौके पर पहुंच कर शवों को कब्जे में ले लिया है. मामले की जांच चल रही है.

    गैंगस्टरों और अपराधियों ने परेशान हैं पंजाब पुलिस
    पंजाब के गैंगस्टर और अपराधियों ने पुलिस के नाक में दम कर रखा है. सुरक्षा एजेंसियां (Security agencies) इनकी करतूतों पर पहले ही चिंता जता चुकी हैं. जेल में बंद होने के बावजूद भी अपने गुर्गों से अपराध करा रहे हैं. हालांकि सत्ता में आने के बाद कुछ समय तक कैप्टन सरकार ने इन गैंगस्टरों का सफाया करने की मुहिम भी छेड़ी थी और कई गैंगस्टर पुलिस ने मार भी गिराए थे. लेकिन यह सिलसिला अभी खत्म नहीं हुआ है. गैंगस्टर जेलों में बैठ कर भी अपने गिरोह का ऑपरेट करते हैं और कत्ल करने की जिम्मेदारी फेसबुक के माध्यम से लेते हैं.