लाइव टीवी

सन्नी देओल को गुरदासपुर से BJP टिकट देने से विनोद खन्ना की पत्नी नाराज, जानिए क्यों

News18Hindi
Updated: April 24, 2019, 10:24 PM IST
सन्नी देओल को गुरदासपुर से BJP टिकट देने से विनोद खन्ना की पत्नी नाराज, जानिए क्यों
दिवंगत विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना ने कहा, ‘मैं छला हुआ महसूस कर रही हूं. मैं यह भी महसूस करती हूं कि जो लोग मुझे सांसद बनना देखना चाहते थे, उनकी उम्मीदों को अनदेखा किया गया है.’

दिवंगत विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना ने कहा, ‘मैं छला हुआ महसूस कर रही हूं. मैं यह भी महसूस करती हूं कि जो लोग मुझे सांसद बनना देखना चाहते थे, उनकी उम्मीदों को अनदेखा किया गया है.’

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2019, 10:24 PM IST
  • Share this:
चार बार के सांसद और दिवंगत फिल्म अभिनेता विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना सन्नी देओल को गुरदासपुर से बीजेपी का टिकट दिए जाने से खफा हैं. कविता ने बुधवार को कहा कि वो खुद को ‘ठगा’ हुआ महसूस कर रही हैं. उन्होंने कहा कि वो बदली परिस्थिति में यहां से निर्दलीय ही चुनाव लड़ने सहित अन्य विकल्पों पर भी विचार कर रहीं हैं.

बीजेपी ने मंगलवार शाम गुरदासपुर से सन्नी देओल को अपना प्रत्याशी बनाने की घोषणा की थी. पार्टी के इस निर्णय से कविता की उम्मीदों पर पानी फिर गया क्योंकि वो खुद यहां से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहती थीं.

उन्होंने कहा, ‘मैं छला हुआ महसूस कर रही हूं. मैं यह भी महसूस करती हूं कि जो लोग मुझे सांसद बनना देखना चाहते थे, उनकी उम्मीदों को अनदेखा किया गया है.’

जब कविता खन्ना से पूछा गया कि क्या वो निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर गुरदासपुर संसदीय सीट पर मैदान में उतरेंगी, इस पर उन्होंने कहा, ‘मैं सारे विकल्पों पर विचार कर रही हूं. मैंने (अब तक) कोई फैसला नहीं किया है. मैंने किसी मुद्दे पर कोई निर्णय नहीं किया है.’

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव: 29 अप्रैल को वाराणसी से नामांकन दाखिल करेंगी प्रियंका गांधी!

उन्होंने कहा कि दिवंगत विनोद खन्ना के साथ उन्होंने गुरदासपुर के लोगों की 20 साल तक सेवा की है. उन्होंने कहा, ‘मुझे भगवान में विश्वास है. जीवन एक यात्रा है. मैंने यहां 20 साल काम किया है. जब विनोद जी अस्वस्थ थे, तो मैं यहां लोगों से मिलती थी. लोग मुझे सांसद बनते देखना चाहते हैं.’

यह भी पढ़ें: विपक्ष पर PM मोदी का तंज, कहा- सब घुंघरू बांधकर तैयार हो गए
Loading...

बता दें कि अप्रैल 2017 में विनोद खन्ना के निधन के बाद गुरदासपुर सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस के सुनील जाखड़ ने जीत हासिल की थी. जाखड़ ने बीजेपी के स्वर्ण सालारिया को 1,93,219 वोटों के अंतर से हराया था. कविता खन्ना ने तब भी यहां से बीजेपी का टिकट हासिल करने का प्रयास किया था.

विनोद खन्ना गुरदासपुर से 1998, 1999, 2004 और 2014 में चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुरदासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 24, 2019, 10:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...