होम /न्यूज /पंजाब /मरा नहीं, अभी जिंदा है आतंकी रिंदा! मौत की खबर का क्या था मकसद; खुफिया दस्तावेजों से हो गया खुलासा

मरा नहीं, अभी जिंदा है आतंकी रिंदा! मौत की खबर का क्या था मकसद; खुफिया दस्तावेजों से हो गया खुलासा

खालिस्तानी आतंकी रिंदा की मौत को लेकर खुफिया दस्तावेजों से बड़ा खुलासा हुआ है. (फाइल फोटो)

खालिस्तानी आतंकी रिंदा की मौत को लेकर खुफिया दस्तावेजों से बड़ा खुलासा हुआ है. (फाइल फोटो)

Harvinder Singh Rinda death News: पाकिस्तान में बैठकर भारत के खिलाफ आतंकी साजिश रचने वाले मोस्ट वॉन्टेड आतंकवादी रिंदा ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: मोस्ट वॉन्टेड आतंकवादी हरविंदर सिंह रिंदा अभी मरा नहीं है, बल्कि वह जिंदा है और अब भी पाकिस्तान में बैठकर भारत के खिलाफ आतंकी साजिश रच रहा है. खुफिया दस्तावेजों से यह खुलासा हुआ है कि कुख्यात अपराधी और खालिस्तानी आतंकवादी हरविंद सिंह रिंदा अभी जिंदा है. रिंदा ने जानबूझकर अपने मरने की खबर फैलाई थी, ताकि भारतीय एजेंसियों का ध्यान उस पर से हट सके. बता दें कि आतंकी हरविंदर रिंदा की दवाओं के ओवरडोज की वजह से पाकिस्तान में मौत की खबर सामने आई थी.

खुफिया दस्तावेजों के मुताबिक, खुद बब्बर खालसा इंटरनेशनल के कमांडरों ने इसका खुलासा किया है कि आतंकी रिंदा अभी जिंदा है. नवंबर के आखिरी सप्ताह में बब्बर खालसा इंटरनेशनल की एक बैठक हुई थी, जिसमें आतंकी रिंदा का मामला उठा था. बब्बर खालसा इंटरनेशनल के कमांडर ने कहा था कि रिंदा अपने निजी लाभ और निजी दुश्मनी निकालने के लिए बब्बर खालसा इंटरनेशनल और आईएसआई का नाम ले रहा है.

सूत्रों के मुताबिक, आतंकी कमांडरों की मीटिंग में कहा गया था कि इस मामले में रिंदा को लेकर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से बैठक की जाएगी. बैठक में साफ तौर पर कहा गया कि रिंदा पर आईएसआई का पूरा हाथ है. यही कारण है कि वह अपने स्वार्थ के लिए बब्बर खालसा का नाम बदनाम कर रहा है. इस तरह से फिर साबित हुआ कि पंजाब में आतंकवाद के पीछे पूरी तरह से पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई है.

आतंकी हरविंदर रिंदा मरा या जिंदा है? आमने-सामने लखबीर लांडा और अर्श डल्ला, दोनों के अलग-अलग दावे

क्या थी मौत की खबर
कुछ समय पहले मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से यह कहा गया था कि पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर आतंकी हरविंदर रिंदा की पाकिस्तान के लाहौर में मौत हो गई है. हालांकि, उस वक्त भी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई थी. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि उसे गोली लगी थी, जबकि कुछ में कहा गया कि मौत दवाओं के ओवरडोज से हुई. रिंदा को किडनी की बीमारी थी. लाहौर के जिंदल अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था. यहां से उसे मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था. कहा गया था कि हरविंदर रिंदा को अस्पताल में एक इंजेक्शन दिया गया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई. हालांकि, अब दस्तावेजों ने कन्फर्म कर दिया है कि रिंदा अभी जिंदा है.

कौन है हरविंद सिंह रिंदा
आतंकी हरविंदर रिंदा पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है. बाद में वह नांदेड़ महाराष्ट्र में शिफ्ट हो गया. उसे सितंबर 2011 में मर्डर के केस में उम्रकैद की सजा हुई थी. कई आपराधिक मामलों में नाम सामने आने के बाद वह फर्जी पासपोर्ट के जरिए नेपाल के रास्ते पाकिस्तान भाग गया. वहां पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI ने उसे अपना गुर्गा बना लिया. वह पाकिस्तान से पंजाब में लगे इंटरनेशनल बॉर्डर के जरिए ड्रोन से हथियार भेजने लगा. पंजाब में हाल ही में हुई कई बड़ी वारदातों में उसका नाम सामने आया था. पुलिस रिकॉर्ड में हरविंदर रिंदा एक हिस्ट्रीशीटर था. वह पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र में कुख्यात गैंगस्टर रहा. मर्डर, कॉन्ट्रैक्ट किलिंग, डकैती, फिरौती और स्नेचिंग के कई मामलों में वह पंजाब पुलिस का वॉन्टेड था.

Tags: Crime News, Gangster, Pakistan, Punjab news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें