पैसे लेकर गैंगरेप मामले में बयान बदलने वाली युवती गिरफ्तार, फिर से की 10 लाख रुपए की मांग

महिला थाना प्रभारी ने गुरजिंद्र सिंह को कुछ निशानी वाले नोट देकर ब्लैकमेल करनी वाली युवती और उसके साथी के पास भेजा था. (सांकेतिक तस्वीर)

महिला थाना प्रभारी ने गुरजिंद्र सिंह को कुछ निशानी वाले नोट देकर ब्लैकमेल करनी वाली युवती और उसके साथी के पास भेजा था. (सांकेतिक तस्वीर)

Punjab Crime News: डेराबस्सी के अंटाला गांव के गुरजिंद्र सिंह एसएसपी हामिद अख्तर (SSP Hamid Akhtar)से मिले थे. उनका आरोप था कि युवती अब उनके बेटे को दोबारा से ब्लैकमेल करने लगी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 1, 2021, 11:11 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के मोहाली (Mohali) में करीब 4 साल पहले जगाधरी के गेट के पास 17 साल की लड़की ने 7 लोगों पर गैंगरेप (Gang rape) का मामला दर्ज करवाया था, जिसके बाद लड़की ने 12 लाख रुपए लेकर कोर्ट में अपने बयान बदल दिए थे. अब इस युवती ने फिर से पांच आरोपियों से 10 लाख रुपए की डिमांड कर डाली और एक आरोपी युवक की शिकायत पर पुलिस के ट्रैप में फंस गई. पुलिस ने इस युवती और उसके साथी को एक लाख रुपए लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है.

ऐसी किया युवती को पुलिस ने काबू
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक जब दोबारा से 10 लाख रुपए की मांग की तो डेराबस्सी के अंटाला गांव के गुरजिंद्र सिंह एसएसपी हामिद अख्तर (SSP Hamid Akhtar)से मिले थे. उनका आरोप था कि युवती अब उनके बेटे को दोबारा से ब्लैकमेल करने लगी है. इस पर एसएसपी ने महिला थाना प्रभारी को मामले को सुलझाने के आदेश दिए थे.

महिला थाना प्रभारी ने गुरजिंद्र सिंह को कुछ निशानी वाले नोट देकर ब्लैकमेल करनी वाली युवती और उसके साथी के पास भेजा था. बोस्टन जेल के पास एक पार्क में गुरजिंद्र सिंह ने युवती और उसके साथी को एक लाख रुपए दिए। महिला थाना प्रभारी ने दोनों का रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. दोनों को आज वीरवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा.
यह भी पढ़ें: मेडिकल र‍िपोर्ट लेकर व्‍हीलचेयर पर कोर्ट में पेश हुआ मुख्‍तार अंसारी, UP की जेल आने में अभी और लगेंगे 12 द‍िन!



युवती को पहले दे चुके थे 12 लाख
गुरजिंद्र सिंह ने एसएसपी को शिकायत दी थी कि दुर्गा नगर के अरुणेश कुमार व एक युवती ने महिला पुलिस थाना अम्बाला में 3 सितंबर 2016 को पॉक्सो अधिनियम के तहत रिर्पोट दर्ज करवाकर उनके बेटे लक्की, हरविंद्र के अलावा राघव, संदीप, नरेश, विमल, साहिल को आरोपी बनाया गया था.

वह उन सबसे मामले का निपटारा करने के लिए 12 लाख रुपए की मांग कर रही थी और धमकी दे रही थी कि यदि उसे पैसे नहीं दिए तो वह झूठे मामले में आरोपियों को सजा दिलवाएगी. गुरजिंद्र सिंह का कहना है कि यह रकम उन्होंने युवती के पिता को दी थी. जिसके बाद युवती ने कोर्ट में अपने बयान भी बदल दिए थे. इसके बावजूद वह अब दोबारा 10 लाख रुपए मांग करने लगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज