होम /न्यूज /पंजाब /पंजाब: कपूरथला बेअदबी मामले में क्रॉस एफआईआर दर्ज, मर्डर केस में ग्रंथी गिरफ्तार

पंजाब: कपूरथला बेअदबी मामले में क्रॉस एफआईआर दर्ज, मर्डर केस में ग्रंथी गिरफ्तार

कपूरथला मामले में ग्रंंथी गिरफ्तार. (Pic- News18)

कपूरथला मामले में ग्रंंथी गिरफ्तार. (Pic- News18)

Kapurthala Lynching Case: अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में कथित रूप से बेअदबी के प्रयास के एक दिन बाद बीते रविवार को निजामपुर ...अधिक पढ़ें

    चंडीगढ़. पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने कपूरथला के गुरुद्वारे ( Kapurthala Gurdwara) के प्रबंधक (केयरटेकर) को मुख्य आरोपी की पीट-पीट कर हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. उस पर हत्या का आरोप लगाया गया है. मामले में क्रॉस एफआईआर (Cross FIR) दर्ज की गई है और बेअदबी व कत्ल के मामले की जांच साथ-साथ चलेगी.

    पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में कथित रूप से बेअदबी के प्रयास के एक दिन बाद बीते रविवार को निजामपुर गांव के गुरुद्वारे में निशान साहिब’ (सिख धार्मिक ध्वज) का अनादर करने के आरोप में एक अन्य व्यक्ति की हत्या कर दी गयी थी. गुरुद्वारा के प्रबंधक अमरजीत सिंह ने दावा किया था कि उन्होंने उस व्यक्ति को देखा था जो धार्मिक ध्वज का अनादर करने की कोशिश कर रहा था.

    इससे पहले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में कहा था कि सरकार हत्या का मामला दर्ज करने पर विचार कर रही है क्योंकि बेअदबी के आरोप के समर्थन में कोई सबूत नहीं मिला है. जालंधर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक गुरिंदर सिंह ढिल्लों ने बताया कि अमरजीत सिंह को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है.

    ढिल्लों ने कहा कि अब तक बेअदबी का कोई निशान नहीं मिला है. उन्होंने कहा कि हमने घटना में पहले से दर्ज प्राथमिकी में संशोधन किया है और धारा 302 (हत्या) तथा 307 (हत्या का प्रयास) को जोड़ा है. मुख्य आरोपी अमरजीत सिंह को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. उन्होंने कहा कि पुलिस ने करीब 100 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जिनमें से 25 से 30 हथियारों से लैस थे.

    पीड़ित की पहचान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि एक मेडिकल बोर्ड ने डीएनए परीक्षण के लिए नमूने लिए हैं. उन्होंने कहा कि जहां तक शारीरिक पहचान का सवाल है, वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी के आधार पर अब तक यह संभव नहीं हो पाया है.

    Tags: Punjab

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें