Home /News /punjab /

khalistan zindabad written on walls before kejriwal punjab tour trying to spoil the atmosphere

केजरीवाल के पंजाब दौरे से पहले दीवारों पर लिखा खालिस्तान जिंदाबाद, माहौल खराब करने की कोशिश

पंजाब में कई जगह ऐसे पोस्टर मिल जाएंगे. (ट्विटर से ली गई प्रतीकात्मक तस्वीर)

पंजाब में कई जगह ऐसे पोस्टर मिल जाएंगे. (ट्विटर से ली गई प्रतीकात्मक तस्वीर)

Khalistan zindabad poster: पंजाब में कई जगहों पर खालिस्तान जिंदाबाद के पोस्टर लगाए जा रहा है. इससे सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं. माना जा रहा है कि पंजाब में माहौल करने की कोशिश के तहत ऐसे पोस्टर लगाए जा रहे हैं.

एस. सिंह

चंडीगढ़. पंजाब में बाहरी ताकतों द्वारा माहौल को खराब करने की लगातार कोशिश की जा रही है. आए दिन राज्य के कई शहरों की दीवारों पर खालिस्तान के नारे लिख दिए जाते हैं. जालंधर शहर में भी बीते मंगलवार की रात को टांडा और देवी तालाब के साथ लगते क्षेत्र की दीवारों पर खालिस्तानी स्लोगन लिखे हुए मिले हैं. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस आसपास के एरिया की सीसीटीवी की फुटेज खंगाल रही है. पिछले महीने भी कुछ जगहों पर इस तरह के पोस्टर लगाए गए थे. आज दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी पंजाब दौरे पर हैं.

सीएम केजरीवाल के दौरे से पहले पोस्टर

दीवारों पर खालिस्तान के नारे लिखने की इस घटना को आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के पंजाब दौरे से भी जोड़ कर देखा जा रहा है. वह आज दिल्ली के लिए पंजाब से शुरू की जाने वाली वोल्वो बसों को हरी झंडी दिखाने के लिए जालंधर आ रहे हैं. ऐसा माना जा रहा है कि उनके दौरे के दौरान खालिस्तान समर्थकों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने के लिए दीवारों पर नारे लिखे हैं.

ऐसे पोस्टर अब आम
हालांकि पंजाब में दीवारों पर खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखने की घटनाएं आम ही हो चली हैं. करीब दो दिन पहले पंजाब के फरीदकोट में सेशन कोर्ट के जज के घर की दीवारों पर खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे पाए गए थे. इससे संबंधित एक वीडियो एसएफजे कार्यकर्ता गुरपतवंत सिंह पन्नू ने भी जारी किया था. इस मामले में भी अभी जांच जारी है. इससे पहले हिमाचल प्रदेश की धर्मशाला स्थित विधानसभा के गेट भी रातों-रात खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिख दिए गए थे. इस मामले में पंजाब के दो लोगों को हिरासत में भी लिया गया था.

आईएसआई की करतूत
पंजाब के मुट्ठी भर सिख अलगाववादियों द्वारा प्रस्तावित राष्ट्र को खालिस्तान नाम दिया गया है. 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद ये आंदोलन काफी तेज हुआ था, हालांकि 1995 तक भारत सरकार ने इस पर कंट्रोल कर लिया था, लेकिन अब पाकिस्तान की एजेंसी आईएसआई पंजाब का माहौल खराब करने के लिए इस काम के लिए बेरोजगार युवाओं को टेरर फंडिंग करती है.

Tags: Arvind kejriwal, Khalistan, Punjab, Punjab news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर