अमरिंदर की दो टूक: मंत्री के क्षेत्र में कैंडिडेट हारा, तो कैबिनेट से होंगे बेदखल

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह ने अपनी सरकार के मंत्रियों को चेतावनी दी है

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह ने अपनी सरकार के मंत्रियों को चेतावनी दी है

  • Share this:
    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह ने अपनी सरकार के मंत्रियों को चेतावनी दी है. कैप्टन ने कहा है कि अगर मंत्रियों के क्षेत्र से कोई पार्टी कैंडिडेट हारा तो उन मंत्रियों का पद छीन लिया जाएगा. कैप्टन के मुताबिक यह आदेश पार्टी शीर्ष नेतृत्व ने दिया है. पार्टी शीर्ष नेतृत्व ने कहा है कि अगर कोई मंत्री अपने क्षेत्र में सांसद उम्मीदवार को जिता पाने में नाकामयाब रहता है तो उसे अपनी 'नौकरी' से हाथ धोना पड़ सकता है.

    बीते लोकसभा चुनावों के दौरान भी राज्य में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा नहीं था. कुल 13 में से पार्टी ने सिर्फ तीन सीटों पर जीत हासिल की थी. तब खुद कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी नेता अरुण जेटली के सामने अमृतसर सीट पर खड़े थे. हाई प्रोफाइल इस मुकाबले में अमिरंदर ने अरुण जेटली को पटखनी दे दी थी. हालांकि उससे पहले दो बारे बीजेपी नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू चुनाव जीत रहे थे.



    अब पार्टी के लिए पिछले लोकसभा चुनाव से स्थितियां भिन्न हैं. अब राज्य में भी कांग्रेस पार्टी की सरकार है. ऐसे में कांग्रेस का पूरा जोर है कि राज्य में प्रदर्शन को बेहतर किया किया जाए. राज्य में पार्टी के पास एक बड़े चेहरे के रूप सीएम अमरिंदर सिंह मौजूद है. यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री सहित राज्य में कई सीटों पर कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर है. ऐसे में माना जा रहा है कि शीर्ष नेतृत्व ने मंत्रियों पर जीत का दबाव विजय सुनिश्चित करने के लिए बनाया गया है.

    यह भी पढ़ें: टिकट कटने पर दुखी केंद्रीय मंत्री ने किया ट्वीट- BJP ने गौ-हत्या कर दी

    यह भी पढ़ें: न डिबेट न सवाल, संसद में फ्लॉप नजर आते हैं बॉलीवुड के बड़े सितारे!

    यह भी पढ़ें: अकाली दल ने फिरोजपुर से सुखबीर बादल और बठिंडा से हरसिमरत कौर बादल को बनाया उम्मीदवार