होम /न्यूज /पंजाब /अपनी गाड़ी में टीनू को गर्लफ्रेंड से मिलवाने ले गया था CIA स्टाफ प्रभारी, माशूका के साथ वहीं से फरार हुआ गैंगस्टर

अपनी गाड़ी में टीनू को गर्लफ्रेंड से मिलवाने ले गया था CIA स्टाफ प्रभारी, माशूका के साथ वहीं से फरार हुआ गैंगस्टर

गैंगस्टर दीपक टीनू के पुलिस कस्टडी से फरार होने के बाद पंजाब के डीजीपी ने मानसा के सीआईए स्टाफ इंचार्ज को डिसमिस कर दिया है. (File Photo)

गैंगस्टर दीपक टीनू के पुलिस कस्टडी से फरार होने के बाद पंजाब के डीजीपी ने मानसा के सीआईए स्टाफ इंचार्ज को डिसमिस कर दिया है. (File Photo)

सूत्रों का कहना है कि प्रीतपाल सिंह गैगस्टर दीपक टीनू को अपनी गाड़ी में मानसा से 25 किमी दूर झुनीर के एक गेस्ट हाउस में ...अधिक पढ़ें

एस. सिंह/चंडीगढ़: सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की साजिश में शामिल कुख्यात गैंगस्टर दीपक टीनू के पुलिस कस्टडी से फरार होने के बाद पंजाब के डीजीपी ने मानसा के सीआईए स्टाफ इंचार्ज को डिसमिस कर दिया है. पुलिस ने उसे दीपक टीनू को भगाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. डिसमिस किए गए सीआईए इंचार्ज प्रीतपाल सिंह ने गिरफ्तारी के बाद पूछताछ के दौरान बड़ा खुलासा किया. सूत्रों का कहना है कि प्रीतपाल सिंह गैगस्टर दीपक टीनू को अपनी गाड़ी में मानसा से 25 किमी दूर झुनीर के एक गेस्ट हाउस में उसकी गर्लफ्रैंड से मिलवाने ले गया था. इस दौरान टीनू के हाथ मे हथकड़ी भी नहीं थी.

प्रीतपाल सिंह ने दीपक टीनू को उसकी गर्लफ्रेंड के साथ गेस्ट हाउस के कमरे में अकेले छोड़ा था. कुख्यात गैंगस्टर वहीं से फरार हो गया. प्रीतपाल को पुलिस आज अदालत में पेश करेगी. सूत्रों का यह भी कहना है कि दीपक टीनू जेल में रहते हुए फरार होने की योजना बना रहा था. वह आए दिन जेल में झगड़ा करता था, ताकि उसे चोट लगने पर अस्पताल ले जाया जाए और उसे फरार होने का मौका मिल सके. वह पहले भी एक बार पंचकूला में इसी तरह पुलिस हिरासत से भाग चुका है. यह भी कहा जा रहा है कि पुलिस ने जेल में टीनू से एक मोबाइल भी बरामद किया था. पुलिस मोबाइल से की गई कॉल्स का डंप डेटा उठा रही है, ताकि गैंगस्टर की लोकेशन का पता लगाया जा सके.

पांच राज्यों में वांटेड है गैंगस्टर टीनू
उधर टीनू के फरार होते ही लॉरेंस बिश्नोई के नाम से सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली गई कि यदि टीनू का एनकाउंटर होता है तो इसका पुलिस को अंजाम भुगतना होगा. दीपक टीनू ने मूसेवाला हत्याकांड में अहम भूमिका निभाई थी. पुलिस की पूछताछ में खुलासा हुआ था कि मूसेवाला के कत्ल से 2 दिन पहले टीनू की तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से बात हुई थी. हरियाणा के भिवानी निवासी दीपक पर चंडीगढ़ समेत 5 राज्यों में हत्या, लूटपाट समेत करीब 35 केस दर्ज दर्ज हैं. वह ए कैटेगरी का गैंगस्टर है. दीपक उर्फ टीनू करीब 11 साल पहले लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा था. नवंबर 2017 में भिवानी के चिड़ियाघर मोड़ स्थित एक जिमखाना में बंटी मास्टर की गोली मारकर हत्या की वारदात को भी टीनू ने दोस्त संपत नेहरा के साथ मिलकर अंजाम दिया था.

इसके बाद टीनू ने भिवानी के महम गेट स्थित खरोलिया मेडिकल हॉल संचालक से भी 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी. इस घटना के बाद पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए जा रहे हैं. पंजाब भाजपा महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा है कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान को अपने सियासी दौरे छोड़ कर राज्य पर ध्यान देना चाहिए. विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि हमारे सीएम गुजरात में ‘गरबा’ में बिजी हैं और सिद्धू मूसेवाला की हत्या में साजिश करने वाला दीपक टीनू फिल्मी अंदाज में पुलिस को चकमा देकर भाग गया. उल्लेखनीय है कि टीनू जिस दिन पुलिस कस्टडी से फरार हुआ, उस दिन मुख्यमंत्री भगवंत मान आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के साथ गुजरात दौरे पर थे. यहां उन्होंने एक कार्यक्रम में गरबा भी किया और भांगड़ा भी.

Tags: Gangsters in Punjab, Punjab news, Punjab Police

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें