अपना शहर चुनें

States

31 लाख खर्च कर पत्‍नी को भेजा कनाडा, वहां पहुंचकर पति से बोली- फोन किया तो केस कर दूंगी

पति ने पूरे ससुराल पर दर्ज कराया केस. (File Pic)
पति ने पूरे ससुराल पर दर्ज कराया केस. (File Pic)

कनाडा जाने के नाम पर पहले शादी और फिर धोखाधड़ी की शिकायत के 11 महीने बाद पुलिस ने दर्ज की एफआईआर. पीड़ित युवक ने पत्नी, सास-ससुर, मामा ससुर, मामी सास और ममेरी साली के खिलाफ केस दर्ज करवाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 10:48 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के मोगा (Moga) में एक युवक ने अपनी पत्नी को कनाडा (Canada) भेजने के लिए 31 लाख रुपए खर्च कर दिए. शादी के तीन दिन बाद दुल्हन कनाडा भी चली गई, लेकिन वहां पहुंचते ही उसके तेवर बदल गए. दस दिन बाद जब उसके पति ने फोन किया तो जवाब में पत्नी ने कहा कि उसे दोबारा फोन किया तो वह उसके खिलाफ केस कर देगी. ठगी के इस मामले में युवक ने पत्नी, सास, ससुर, मामा ससुर, मामी सास और ममेरी साली के खिलाफ केस दर्ज करवाया है.

इस मामले में पीड़ित युवक ने मोगा के थाना बधनीकलां में 11 मार्च 2020 को ही लिखित शिकायत दी थी. पुलिस ने अब जाकर 11 महीने बाद इस मामले की एफआईआर दर्ज की है. देरी से मामला दर्ज करने के बाद भी आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है, जबकि पत्नी को छोड़कर सभी आरोपी देश में ही हैं. पीड़ित देविंदर सिंह गांव दौधर सरकी का रहने वाला है. जांच अधिकारी सहायक थानेदार प्रीतम सिंह ने बताया कि दविंदर सिंह पुत्र गुरसेवक सिंह की शादी लुधियाना के मंडियानी गांव की हरजशनप्रीत कौर पुत्री सुखविंदर सिंह के साथ अगस्त 2018 में हुई थी.

पीड़ित की दी गई शिकायत में कहा गया है कि दविंदर के मासी-मासड़ ने उनके गांव मडियाणी की हरजशनप्रीत के बारे में बताया था कि वह आइलेट्स पास (IELTS Exam) है और स्टडी के लिए विदेश जाना चाहती है. अगर वह उससे शादी करेगा तो वह भी विदेश में सैटल हो जाएगा. लेकिन देविंदर को शादी से लेकर विदेश भेजने तक का खर्च उठाना पड़ेगा. देविंदर इसके लिए तैयार हो गया और उसने पत्नी को कनाडा भेजने के लिए 31 लाख रुपए खर्च कर दिए.




गौरतलब है कि पढ़ने के लिए कनाडा जाने से पहले आइलेट्स की परीक्षा देनी पड़ती है. यह एक तरह से अंग्रेजी भाषा का टेस्ट है, जिसके आधार पर स्टूडेंट्स को कनाडा का वीजा मिलता है. पंजाब से बड़ी संख्या में हर साल लोग आइलेट्स एग्जाम पास कर कनाडा जाते हैं. वहीं, नौकरी करने के लिए कनाडा जाने वालों को वर्क परमिट लेना होता है, उनके लिए आइलेट्स पास करना अनिवार्य नहीं है.

इन पर दर्ज हुआ ठगी का केस
ठगी का शिकार हुए देविंदर ने बताया कि पत्नी को फोन करने के बाद जब वह अपने ससुराल गया तो वहां पर भी उसके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया गया. दूसरी ओर पत्नी ने भी उसके साथ बदसलूकी की, तब उसने पुलिस में शिकायत की. लेकिन पुलिस ने 11 महीनों के बाद हरजशनप्रीत कौर, उसके पिता सुखविदर सिंह, हरप्रीत कौर पत्नी सुखविदर कौर निवासी गांव मंडिआनी जिला लुधियाना, हरजीत सिंह, सर्बजीत कौर व अमनजोत कौर निवासी आलमगीर पत्ती लखवीर जिला लुधियाना के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज