• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • बिजली बिल बकाये पर सिद्धू की पत्‍नी ने दिया सुखबीर बादल को जवाब, कहा- हमारी मेहनत की कमाई...

बिजली बिल बकाये पर सिद्धू की पत्‍नी ने दिया सुखबीर बादल को जवाब, कहा- हमारी मेहनत की कमाई...

नवजोज सिंह सिद्धू की पत्‍नी नवजोत कोैर ने दिया सुखबीर बादल को जवाब. (Pic- ANI)

Navjot Singh Sidhu Electricity bill: नवजोत सिंह कौर ने सुखबीर सिंह बादल पर निशाना साधते हुए कहा, 'हमारा मसला यह था कि हमारे घर पर गर्मी और सर्दी, दोनों में ही एकसमान बिजली बिल आ रहे थे. इसे लेकर हमने अपील दायर की थी.'

  • Share this:
    चंडीगढ़. कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के कथित बिजली बिल बकाये को लेकर शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) की ओर से शनिवार को निशाना साधा गया था. इसके बाद रविवार को नवजोत सिंह सिद्धू की पत्‍नी नवजोत कौर (Navjot Kaur) ने शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल पर पलटवार किया है. उन्‍होंने कहा, 'मैं सुखबीर सिंह बादल से कहना चाहती हूं कि उनकी तरह हमारे पास गैरकानूनी ढंग से कमाई हुई आय नहीं है, बल्कि हमारी कमाई मेहनत की है.'

    नवजोत सिंह कौर ने सुखबीर सिंह बादल पर निशाना साधते हुए कहा, 'हमारा मसला यह था कि हमारे घर पर गर्मी और सर्दी, दोनों में ही एकसमान बिजली बिल आ रहे थे. इसे लेकर हमने अपील दायर की थी.'

    बता दें कि शनिवार को अकाली दल की ओर से ट्वीट करके नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्‍टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधा गया था. इसमें कहा गया था, 'कप्तान साहब! पंजाब को बिजली संकट से परेशान करने के बाद अगर आपके पास कुछ समय है, तो यहां भी देखें. आपके इस मंत्री को जिस पर लाखों बिजली बिल बकाया हैं, उसे सबसे 'करुणा' की ज़रूरत है, उस पर दया करो.'

    पंजाब में बिजली की स्थिति पर शुक्रवार को चिंता जा​हिर करने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर प्रदेश की बिजली कंपनी का कथित रूप से आठ लाख रुपये से अधिक का बकाया है. पंजाब राज्य विद्युत निगम लिमिटेड (पीएसपीसीएल) की वेबसाइट के अनुसार, अमृतसर स्थित सिद्धू के घर का बिजली बिल 8,67,540 हो गया है जो अब तक जमा नहीं किया गया था और बिल जमा करने की आखिरी तारीख दो जुलाई थी.

    पंजाब में बिजली की किल्लत के बीच सत्तारूढ़ कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार के दौरान किए गए बिजली खरीद समझौते (पीपीए) को रद्द करने के लिए नया कानून लाने का शुक्रवार को आग्रह किया था. सिद्धू ने कहा था कि अगर राज्य सही दिशा में काम करता है, तो पंजाब में बिजली कटौती या कार्यालय के समय को विनियमित करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज