होम /न्यूज /पंजाब /जेल में योग, ध्यान और कड़ी डाइट फॉलो करने में जुटे नवजोत सिद्धू, 6 महीने में 34 किलो वजन घटाया

जेल में योग, ध्यान और कड़ी डाइट फॉलो करने में जुटे नवजोत सिद्धू, 6 महीने में 34 किलो वजन घटाया

रोडरेज मामले में सजा काट रहे नवजोत सिंह सिद्धू ने जेल में अपना वजन 34 किलो घटाया. (फाइल फोटो)

रोडरेज मामले में सजा काट रहे नवजोत सिंह सिद्धू ने जेल में अपना वजन 34 किलो घटाया. (फाइल फोटो)

जेल में बंद पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने योग, ध्यान औक कड़ी डाइट फॉलो करके अपना वजन 34 किलो घटा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पंजाब प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिद्धू जेल में डाइट कंट्रोल को कड़ाई से फॉलो कर रहे हैं.
पटियाला सेंट्रल जेल में बंद सिद्धू इसके साथ ही दो घंटे योग और व्यायाम करते हैं.
इसके कारण 6 माह में सिद्धू का 34 किलो वजन कम हो गया है.

चंडीगढ़. पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीपीसीसी) के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के एक सहयोगी ने दावा किया है कि पिछले छह महीनों में कड़े डाइट कंट्रोल और दो घंटे योग और व्यायाम के कारण पटियाला सेंट्रल जेल में बंद रहने के दौरान उनका 34 किलो वजन कम हो गया है. 1980 और 1990 के दशक के दिग्गज क्रिकेटर, 6 फीट 2 इंच लंबे सिद्धू का वजन अब 99 किलोग्राम है. सिद्धू 1988 के रोड रेज मामले में एक साल की सजा काट रहे हैं. सिद्धू के सहयोगी और पूर्व विधायक नवतेज सिंह चीमा के मुताबिक सिद्धू कम से कम चार घंटे ध्यान, दो घंटे योग और व्यायाम करते हैं, दो से चार घंटे पढ़ते हैं और केवल चार घंटे सोते हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक चीमा ने शुक्रवार को 45 मिनट तक पटियाला जेल में सिद्धू से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि ‘जब सिद्धू अपनी सजा पूरी करके बाहर आएंगे, तो आप उन्हें देखकर हैरान रह जाएंगे. वह बिल्कुल वैसे ही दिखते हैं, जैसा वह एक क्रिकेटर के रूप में अपने सुनहरे दिनों में दिखा करते थे. उन्होंने 34 किलो वजन कम किया है और वह और कम करेंगे. अब उनका वजन 99 किलो है. वह 6 फीट 2 इंच लंबे हैं, इसलिए वह अपने मौजूदा वजन में काफी खूबसूरत दिखते हैं. वह शांत दिखते हैं क्योंकि वह इतना समय ध्यान में बिताते हैं.’

पूर्व विधायक चीमा ने कहा कि ‘वह वास्तव में अच्छा महसूस कर रहे हैं. सिद्धू ने मुझे बताया कि उनका लिवर, जो पहले चिंता का विषय था, अब काफी बेहतर है.’ सिद्धू नॉन अल्कोहलिक फैटी लिवर और एम्बोलिज्म से पीड़ित हैं. डॉक्टरों ने उन्हें नारियल पानी, कैमोमाइल चाय, बादाम का दूध और रोजमैरी चाय सहित विशेष आहार की सलाह दी. वह चीनी और गेहूं से दूर हैं और दिन में केवल दो बार खाते हैं. वह शाम 6 बजे के बाद कुछ भी नहीं खाते हैं. उन्हें लिपिकीय कार्य के लिए मुंशी के रूप में नियुक्त किया गया. चीमा ने कहा कि ‘वह दिन के कुछ घंटे क्लर्क के रूप में अपना काम करते हैं. जेल अधिकारी उसे कुछ कागजी कार्रवाई भेजते हैं. वह इसे हर दिन करते हैं. वह अपने बैरक से ही ऐसा करते हैं.’

पटियाला जेल में बंद नवजोत सिंह सिद्धू की बिगड़ी तबीयत, चंडीगढ़ पीजीआई में कराया गया भर्ती, जानें डिटेल्स

जेल मैनुअल के मुताबिक कैदियों को अकुशल, अर्ध-कुशल और कुशल के रूप में बांटा गया है. अकुशल और अर्धकुशल कैदियों को क्रमश: 40 रुपये और 50 रुपये प्रतिदिन मिलते हैं. कुशल कैदियों को प्रतिदिन 60 रुपये मिलते हैं. सितंबर तक सिद्धू के साथ पंजाबी गायक दलेर मेहंदी थे, जिन्हें बैरक नंबर 10 में रखा गया था. बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया था. चीमा ने कहा कि ‘अब सिद्धू अन्य कैदियों के साथ बातचीत करने में भी समय बिताते हैं. कुछ लोग उनसे मिलने आते हैं क्योंकि वह एक सेलिब्रिटी हैं.’

Tags: Benefits of yoga, Jail, Navjot singh sidhu, Yoga

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें