• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • लखीमपुर खीरी के लिए निकले सिद्धू, कहा- कल तक नहीं हुई आरोपियों की गिरफ्तारी तो करूंगा भूख हड़ताल

लखीमपुर खीरी के लिए निकले सिद्धू, कहा- कल तक नहीं हुई आरोपियों की गिरफ्तारी तो करूंगा भूख हड़ताल

मोहाली में सीएम चन्‍नी की मौजूदगी में लखीमपुर रवाना हुआ सिद्धू का काफिला. (Pic- ANI)

मोहाली में सीएम चन्‍नी की मौजूदगी में लखीमपुर रवाना हुआ सिद्धू का काफिला. (Pic- ANI)

Lakhimpur Kheri Case: नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के साथ पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कुछ विधायक भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं.

  • Share this:

    मोहाली. पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Case) में हुई किसानों की हत्‍या के खिलाफ गुरुवार को कांग्रेस का मार्च शुरू किया. वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ लखीमपुर खीरी जा रहे हैं. इसके साथ ही उन्‍होंने चेतावनी दी है कि अगर कल (8 अक्‍टूबर) तक मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो वह भूख हड़ताल पर बैठेंगे.

    मोहाली के एयरपोर्ट चौक से नवजोत सिंह सिद्धू का काफिला गुरुवार को लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो चुका है. इस दौरान वहां पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भी मौजूद रहे. नवजोत सिंह सिद्धू के साथ पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कुछ विधायक भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं. सिद्धू ने कहा है कि कुछ भी हो जाए, लेकिन वह कर्तव्यपथ पर डटे रहेंगे.

    बता दें कि सिद्धू ने पिछले दिनों कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था, हालांकि उसे पार्टी ने अभी तक स्वीकार नहीं किया है. इससे पहले सिद्धू ने मंगलवार को भी चेतावनी दी थी कि अगर किसानों की हत्या के सिलसिले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे को गिरफ्तार नहीं किया गया, तो कांग्रेस की पंजाब इकाई उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के लिए कूच करेगी.

    पार्टी नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लेने को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस पर बुधवार को हमला बोलते हुए सिद्धू ने पुलिस पर संविधान की भावनाओं का उल्लंघन करने का आरोप भी लगाया. सिद्धू ने बुधवार को ट्वीट किया था, ’54 घंटे हो चुके हैं. प्रियंका गांधी जी को अदालत के समक्ष पेश नहीं किया गया. गैरकानूनी तरीके से 24 घंटे से अधिक समय तक हिरासत में रखना मौलिक अधिकारों का स्पष्ट उल्लंघन है. बीजेपी और उत्तर प्रदेश पुलिस आप संविधान की भावना का हनन कर रहे हैं, हमारे बुनियादी मानवाधिकारों को ठेस पहुंचा रहे हैं.’

    पिछले रविवार को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया इलाके में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को किसानों द्वारा काले झंडे दिखाए जाने के मामले में भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज