Home /News /punjab /

no sikh judge in newly appointed 11 judges in punjab and haryana high court sad raise questions on this issue dpk

पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में 11 जजों की नियुक्ति पर बवाल, एक भी सिख नहीं होने पर SAD ने उठाए सवाल

शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल. (File Photo)

शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल. (File Photo)

शिअद के प्रधान सुखबीर बादल ने हैरानी जताते हुए कहा है कि देश की आजादी में सिख कौम की कुर्बानी 80 फीसदी रही है, जबकि रविवार को जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक हाई कोर्ट में एक भी सिख जज नहीं है. बादल ने पूछा है कि स्वतंत्रता दिवस पर यह सिख कौम के लिए कैसा तोहफा है?

अधिक पढ़ें ...

एस. सिंह/चंडीगढ़: पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में 11 जजों की नियुक्तियों पर अब सियासत गरमाती हुई नजर आ रही है. दरअसल, केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई 11 जजों की सूची में एक भी सिख जज नहीं है, जिसे लेकर विरोध के स्वर मुखर होने लगे हैं. इन नियुक्तियों को लेकर शिरोमणि अकाली दल (SAD) ने सवाल उठाए हैं.

शिअद के प्रधान सुखबीर बादल ने हैरानी जताते हुए कहा है कि देश की आजादी में सिख कौम की कुर्बानी 80 फीसदी रही है, जबकि रविवार को जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक हाई कोर्ट में एक भी सिख जज नहीं है. बादल ने पूछा कि स्वतंत्रता दिवस पर यह सिख कौम के लिए कैसा तोहफा है?

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने दी मंजूरी
उन्होंने केंद्र सरकार से इस मामले में हस्पक्षेप करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को इस मामले में उचित कदम उठाना चाहिए और पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में सिखों को भी प्रतिनिधित्व दिया जाना चाहिए. गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने रविवार को पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीशों के रूप में पदोन्नत अधिवक्ताओं को नियुक्ति किया है.

कौन-कौन नियुक्त हुए नए जज?
सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने 25 जुलाई को 13 वकीलों के नामों की सिफारिश की थी, जिनमें से 11 नामों को सरकार ने मंजूरी दे दी है. इनमें पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जवाहर लाल गुप्ता की बेटी निधि गुप्ता शामिल हैं. हरियाणा में कानून अधिकारी नरेश सिंह शेखावत, वरिष्ठ अतिरिक्त महाधिवक्ता और अतिरिक्त महाधिवक्ता दीपक मनचंदा भी इस सूची में शामिल हैं.

इसके अलावा सूची में कराधान वकील जगमोहन बंसल, हर्ष बांगर, आलोक कुमार जैन, संजय वशिष्ठ, त्रिभुवन दहिया, नमित कुमार, हरकेश मनुजा और अमन चौधरी को भी शामिल किया गया है. इन नामों की सिफारिश पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के कॉलेजियम ने मार्च 2022 में की थी. उच्च न्यायालय में न्यायाधीशों की वर्तमान संख्या 85 स्वीकृत है. जबकि वर्तमान में 46 जज कार्यरत हैं. इन नियुक्तियों के साथ हाई कोर्ट के जजों की संख्या 57 हो जाएगी.

Tags: Punjab and Haryana High Court, Shiromani Akali Dal, Sukhbir Badal

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर