होम /न्यूज /पंजाब /भगत सिंह-सुखदेव शहीदों के नाम पर खुलेंगे 117 नए स्‍कूल, इस राज्‍य के मुख्‍यमंत्री ने किया ऐलान

भगत सिंह-सुखदेव शहीदों के नाम पर खुलेंगे 117 नए स्‍कूल, इस राज्‍य के मुख्‍यमंत्री ने किया ऐलान

पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने भगत सिंह आदि शहीदों के नाम पर स्‍कूल खोलने का फैसला किया है.  (तस्वीर: Wikimedia Commons)

पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने भगत सिंह आदि शहीदों के नाम पर स्‍कूल खोलने का फैसला किया है. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

Shaheed Bhagat Singh, Sukhdev, Rajguru Martyrs: देश के लिए जिंदगी कुर्बान करने वाले शहीद भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु आदि ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पंजाब की भगवंत मान सरकार जल्‍द 117 नए स्‍कूल खोलने जा रही है.
इन स्‍कूलों के नाम शहीद और स्‍वतंत्रता सैनानियों के नाम पर रखे जाएंगे.

चंडीगढ़. पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) ने शहीदों को सच्‍ची श्रद्धांजलि देते हुए बड़ा ऐलान किया है. सीएम ने राज्‍य में 117 नए स्‍कूल खोलने की घोषणा की है. खास बात है कि स्‍कूल ऑफ एमिनेंस (School of Eminence) के नाम से खुल रहे इन स्‍कूलों के नाम देश के लिए कुर्बान हो चुके शहीद भगत सिंह (Shaheed Bhagat Singh), सुखदेव (Sukhdev), राजगुरु (Rajguru) आदि शहीदों और स्‍वतंत्रता सेनानियों (Freedom Fighters) के नाम पर होंगे. सीएम मान का कहना है कि जल्‍द ही वह दिन आएगा जब दिल्‍ली के स्‍कूलों की तरह पंजाब के स्‍कूलों को देखने के लिए भी लोग बाहर से आया करेंगे.

सीएम मान ने कहा कि सभी 117 स्‍कूल पंजाब के 23 जिलों में स्थापित किये जाएंगे. ये स्‍कूल शिक्षा क्षेत्र में नई क्रांति साबित होंगे. इन्‍हें खोलने का उद्धेश्‍य होनहार और काबिल विद्यार्थियों खासकर सरकारी स्कूलों के बच्चों को अपने सपने साकार करने के लिए बेहतर मौका देना है जिससे ये विद्यार्थी मुकाबले की परीक्षाओं में देश के बाकी बच्चों को पछाड़ कर अच्छे रैंक हासिल कर सकें. इन स्कूलों को विद्यार्थियों के छिपे हुए हुनर को तराशने और निखारने वाली संस्थाओं के रूप में विकसित किया जायेगा ताकि विद्यार्थी अपने मनपसंद पेशे को चुन सकें.

ये भी पढ़ें- पंजाब में फिल्‍म सिटी बनाने का ऐलान, सीएम भगवंत मान बोले, बॉलीवुड से जुड़ेगा पंजाबी सिनेमा

दिल्‍ली की तरह पंजाब के स्‍कूल करेंगे शानदार काम 

भगवंत मान ने कहा, ‘वह दिन अब दूर नहीं जब राज्य के सरकारी स्कूल, प्राईवेट स्कूलों की अपेक्षा बेहतर शिक्षा मुहैया करवाएंगे और माता-पिता अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने में मान महसूस किया करेंगे. उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऐसे स्कूलों ने वहां के शिक्षा क्षेत्र की तस्वीर बदल दी है और आज वहां सरकारी स्कूल शानदार काम कर रहे हैं. दिल्‍ली की तरह ही पंजाब के स्‍कूल भी छा जाएंगे.

स्‍कूल ऑफ एमिनेंस के लिए ट्रेंड हो रहे शिक्षक 

स्कूल ऑफ एमिनेंस का नाम देश की आजादी की खातिर जीवन कुर्बान करने वाले महान शहीदों नाम पर रखा जाएगा. इसके लिए शिक्षकों को भी तैयार किया जा रहा है. राज्‍य सरकार ने पहले बैच में 36 अध्यापकों को सिंगापुर में अध्यापन प्रशिक्षण के लिए भेजने का फैसला किया है. इसके बाद अन्‍य शिक्षकों को भी अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर चल रहे प्रशिक्षण और शैक्षिक प्रणाली में ट्रेंड किया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें- दिल्‍ली में शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की खैर नहीं, DCW स्‍वाति मालीवाल ने उठाया ये कदम

Tags: CM Bhagwant Mann, Punjab news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें