हिजबुल मुजाहिदीन नार्को टेरर फंडिंग में एक गिरफ्तार, रेड से पहले फ्लश किए दस्तावेज

मुजाहिद्दीन नार्को टेरर फंडिंग में एक गिरफ्तार.

मुजाहिद्दीन नार्को टेरर फंडिंग में एक गिरफ्तार.

मनप्रीत सिंह इंटरनेशनल स्मगलर रणजीत सिंह उर्फ चीता और इकबाल सिंह उर्फ शेरा का साथी है और वह हिजबुल आतंकियों और स्मगलरों को हवाला की रकम, हेरोइन और हथियारों की सप्लाई करता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 11:51 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (National Investigation Agency) ने हिजबुल मुजाहिदीन की नार्को टेरर फंडिंग मामले में अमृतसर से हवाला ऑपरेटर मनप्रीत सिंह को गिरफ्तार किया है. उसने रेड से पहले कई दस्तावेज टॉयलेट में फ्लश कर दिए थे, जिन्‍हें जांच अधिकारियों ने सीवरेज लाइन तोड़कर बरामद कर लिया है. वह अमृतसर के रणजीत विहार में कोठी नंबर 15 में अपने परिवार के साथ रह रहा था. यह कोठी उसने 3 महीने पहले किराए पर ली थी.

एजेंसी ने उसके घर से 20 लाख रुपये कैश सहित 9 एमएम पिस्टल के 130 जिंदा कारतूस और एक कार को भी कब्जे में लिया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मनप्रीत सिंह इंटरनेशनल स्मगलर रणजीत सिंह उर्फ चीता और इकबाल सिंह उर्फ शेरा का साथी है और वह हिजबुल आतंकियों और स्मगलरों को हवाला की रकम, हेरोइन और हथियारों की सप्लाई करता था. वह गुरदासपुर के काला अफगाना एरिया के तेजा खुर्द का निवासी है. एनआईए ने मनप्रीत से प्रॉपर्टी के कुछ दस्तावेज, मोबाइल फोन, पैन ड्राइव व कुछ और सामान भी कब्जे में लिया है.

एनआईए ने बटाला में भी इसी सिलसिले में अमरजीत नाम के शख्स के घर भी रेड की है. लेकिन वह घर पर नहीं मिला और उसके घर से भी एनआईए को कुछ नहीं मिला. अमरजीत की भी एनआईए को स्मगलिंग व नार्को टेरर फंडिंग के मामले में तलाश है. जांच अधिकारियों ने मनप्रीत से पूछताछ कर रहे हैं. उसने फर्जी आईडी के जरिए कई मोबाइल सिम भी ले रखे थे.

इसे भी पढ़ें :- पंजाब चुनाव में दिखेगा किसान आंदोलन का असर! प्रचार से लेकर मतदान तक पर असमंजस
एनआईए जांच अधिकारियों ने बताया कि मनप्रीत ड्रग स्मगलरों मनप्रीत इंटरनेशनल स्मगलर रणजीत सिंह उर्फ चीता और इकबाल सिंह उर्फ शेरा के निर्देश पर काम करता था. उसने ही चीता के रिश्तेदार बिक्रम सिंह विक्की को मार्च में ‌35 लाख और हथियार सप्लाई किए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज