पंजाब: भारतीय सीमा में फिर घुसा पाकिस्तानी ड्रोन, BSF की फायरिंग के बाद लौटा वापस

पाकिस्‍तान की ओर से लगातार पंजाब के बॉर्डर पर ड्रोन की मदद से हथियार, पैसे और हेरोइन की सप्‍लाई की जा रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पाकिस्‍तान की ओर से लगातार पंजाब के बॉर्डर पर ड्रोन की मदद से हथियार, पैसे और हेरोइन की सप्‍लाई की जा रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Pakistan's Drone: पठानकोट (Pathankot) के इस एरिया में सीमा पार से आने वाले ड्रोनों की घटनाओं में इजाफा होता जा रहा है. पिछले दो माह में इस इलाके में सीमा पार से ड्रोन आने की यह तीसरी घटना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 9:56 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब में भारत-पाक बॉर्डर (Indo-Pak border) के बमियाल सेक्टर में जीरो लाइन की टींडा पोस्ट पर पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से रविवार सुबह 6 बजे ड्रोन भेजा गया. जिस पर बीएसएफ (Border Security Force) के जवानों ने फयारिंग की. फायरिंग के बाद यह ड्रोन वापस पाकिस्तान की सीमा में चला गया. घटना के बाद पुलिस, सेना के जवानों और बीएसफ ने इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी किया है. उल्लेखनीय है कि पाकिस्‍तान की ओर से लगातार पंजाब के बॉर्डर पर ड्रोन की मदद से हथियार, पैसे और हेरोइन की सप्‍लाई की जा रही है.

बॉडर पर फायरिंग के बाद तीन तस्कर काबू
वहीं दूसरी ओर में अमृतसर के लोपेके स्थित भारत-पाक बॉर्डर पर ही रविवार की सुबह बीएसएफ ने हेरोइन की तस्करी करने जा रहे तीन तस्करों को काबू किया है. चेतावनी देने के बाद जब ये तस्कर रूके नहीं तो बीएसएफ के जवानों को फायरिंग करने पड़ी, जिसमें एक तस्कर घायल हो गया. तीनों तस्करों को बीएसएफ ने पुलिस के हवाले कर दिया है.

Youtube Video

यह भी पढ़ें: चीन-पाक से तनाव के बीच भारत बढ़ाएगा ताकत, अमेरिका से 300 करोड़ डॉलर में खरीदेगा ड्रोन्स



कई बार केंद्र सरकार को अवगत करवा चुके हैं कैप्टन अमरिंदर
पठानकोट के इस एरिया में सीमा पार से आने वाले ड्रोनों की घटनाओं में इजाफा होता जा रहा है. पिछले दो माह में इस इलाके में सीमा पार से ड्रोन आने की यह तीसरी घटना है. उधर पंजाब की सीमा के अंदर आने वाले ड्रोन की घटनाओं को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह (Captain Amarinder Singh) कई बार केंद्र सरकार को अवगत करवा चुके हैं.

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि केंद्र सरकार को पाकिस्‍तान की चालों से सकर्त रहने की जरूरत है. अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार को आगह करते हुए कहा था कि पाकिस्‍तान में बैठे दहशतगर्द भारत में बैठे अपने स्‍लीपर सेल को एक्टिवेट कर सकता है. वह लंबे समय से केंद्र सरकार को चेतावनी देते आ रहे हैं कि पाकिस्तान घुसपैठ की कोशिश कर रहा है.



कैप्टन ने कहा था कि दिल्‍ली में जब से कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन शुरू हुआ है तब से पाकिस्‍तान बॉर्डर पर तेजी से हथियारों की सप्‍लाई कर रहा है. उन्होंने कहा कि नवंबर में जब किसानों का आंदोलन दिल्ली बॉर्डर पर शिफ्ट हुआ तब वह गृह मंत्री अमित शाह से मिले थे और उन्हें पंजाब को अशांत करने की पाकिस्तान की कोशिशों के प्रति आगाह किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज