पादरी के घर छापा मारकर रकम छुपाने वाले चार पुलिसकर्मी बर्खास्‍त

चारों पुलिसकर्मी पटियाला सेंट्रल जेल में बंद हैं. जानकारी के मुताबिक एएसआई जोगिंदर सिंह, राजप्रीत सिंह, दिलबाग सिंह और हेड कांस्‍टेबल आमरिक सिंह ने इसी साल अप्रैल में पादरी के घर बिना पूर्व स्‍वीकृति के छापा मारा था.

News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 3:14 PM IST
पादरी के घर छापा मारकर रकम छुपाने वाले चार पुलिसकर्मी बर्खास्‍त
पादरी के घर छापा मारकर रकम छुपाने वाले चार punjab पुलिसकर्मी बर्खास्‍त. सांकेतिक तस्‍वीर.
News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 3:14 PM IST
पंजाब के जालंधर में एक पादरी के घर में छापेमारी करने को लेकर चार पुलिसकर्मियों को बर्खास्‍त किया गया है. वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक तीन असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर सहित चार पुलिसकर्मियों पर बिना प्राथमिक जानकारी के पादरी के घर पर छापा मारने का आरोप है. इसके साथ ही इन पर आरोप है कि इन्‍होंने छापेमारी के दौरान बरामद की गई रकम में से कुछ रकम छुपा ली.

पटियाला के एसएसपी मंदीप सिंह सिद्धू ने शनिवार को कार्रवाई की. फिलहाल चारों पुलिसकर्मी पटियाला सेंट्रल जेल में बंद हैं. जानकारी के मुताबिक एएसआई जोगिंदर सिंह, राजप्रीत सिंह, दिलबाग सिंह और हेड कांस्‍टेबल अमरीक सिंह ने इसी साल अप्रैल में पादरी के घर बिना पूर्व स्‍वीकृति के छापा मारा था.

कुछ दिन पहले ही खन्‍ना पुलिस ने चर्च के पादरी के घर छापा मारकर 9.66 करोड़ रुपये की रकम बरामद करने की बात कही थी. हालांकि पादरी ने इस मामले को पुलिस और आयकर विभाग के सामने उठाया और कहा कि कुल 16.65 करोड़ रुपये सीज किए गए थे. जबकि पुलिसकर्मी कम रकम बता रहे हैं.

पादरी ने कहा कि यह रकम व्‍यवसाय का हिस्‍सा थी. इसके अलावा पुलिसकर्मियों ने इस रकम को कम करके बताया है जबकि रकम ज्‍यादा थी. इसके बाद पटियाला पुलिस ने इस मामले में विभागीय जांच बिठा दी. जिसमें एएसआई जोगिंदर सिंह और राजप्रीत के बयानों से जांच टीम को 4.60 करोड़ रुपये बरामद करने में मदद मिली.

हालांकि स्‍पेशल इन्‍वेस्टिगेशन टीम की जांच में सामने आया कि खन्‍ना पुलिस के इन एएसआई को 5.8 करोड़ का बाकी पैसा छुपाने को लेकर गिरफ्तार किया गया.

ये भी पढ़ें

Article 370: कश्मीरी छात्र बोला- अगर शांति कायम हो तो स्वागत 
Loading...

BJP सांसद की मांग, 'युगपुरुष' पीएम मोदी को मिले भारत रत्‍न

 
First published: August 11, 2019, 3:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...