• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब विधानसभा चुनाव 2022: CM पद के लिए बीजेपी तलाश रही हिंदू चेहरा, ये है बड़ा कारण

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022: CM पद के लिए बीजेपी तलाश रही हिंदू चेहरा, ये है बड़ा कारण

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारी को लेकर बीजेपी अभी से रणनीति बनाने में जुट गई है.

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारी को लेकर बीजेपी अभी से रणनीति बनाने में जुट गई है.

कांग्रेस (Congress) को सत्‍ता से बेदखल करने और शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) व बीएसपी (BSP) के गठबंधन का तोड़ निकालने के लिए बीजेपी अब हिंदू चेहरे पर फोकस कर रही है. हालांकि जातिगत समीकरण को देखते हुए इस पर अंतिम निर्णय पार्टी आलाकमान का ही होगा.

  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों (Assembly Elections 2022) को देखते हुए बीजेपी (BJP) ने अभी से तैयारी तेज कर दी है. बीजेपी इस बार के चुनाव में मुख्‍यमंत्री पद (Chief Minister Candidate) के लिए किसी हिंदू चेहरे (Hindu Face) को सामने ला सकती है. पंजाब के वोट बैंक में हिंदुओं का एक बड़ा हिस्‍सा है लेकिन 55 सालों में कभी भी किसी हिंदू को राज्‍य का मुख्‍यमंत्री नहीं बनाया गया है. इस संबंध में कई बार हिंदूवादी संगठनों ने भी आवाज उठाई है. यही कारण है कि कांग्रेस को सत्‍ता से बेदखल करने और शिरोमणि अकाली दल व बीएसपी के गठबंधन का तोड़ निकालने के लिए बीजेपी अब हिंदू चेहरे पर फोकस कर रही है. हालांकि जातिगत समीकरण को देखते हुए आगे जो भी निर्णय लिया जाएगा वह पार्टी आलाकमान की बैठक के बाद ही तय होगा.

    पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले हिंदुवादी संगठनों ने एक बार फिर किसी हिंदू चेहरे को मुख्‍यमंत्री प्रत्‍याशी के रूप में घोषित करने की मांग की है. इस संबंध में हिंदूवादी संगठनों का एक शिष्टमंडल भाजपा सांसद और पंजाब मामलों के प्रभारी दुष्यंत गौतम से मुलाकात कर चुका है. पंजाब में जातीगत समीकरण को देखें तो हिंदू की जनसंख्‍या दूसरे नंबर पर है. वोट प्रतिशत के हिसाब से पंजाब में सिख जनसंख्‍या 58 प्रतिशत जबकि हिंदू जनसंख्‍या 40 प्रतिशत है.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब: दिल्ली मॉडल और सिख CM के सहारे विधानसभा चुनाव जीतने की उम्मीद में AAP

    पंजाब में हर बार के चुनावों में सिख चेहरे को ही वरीयता दी जाती रही है. हिंदूवादी संगठनों की मांग और जातिगत समीकरण को देखते हुए बीजेपी नेताओं ने इस बार के विधानसभा चुनावों में हिंदू चेहरे के साथ उतरने की तैयारी शुरू कर दी है. कुछ नेताओं ने बताया कि दलित चेहरा भी हिंदू से ही आता है. ऐसे में अगर बीजेपी इस ओर कोई फैसला करती है तो इसका असर अकाली और बीएसपी गठबंधन पर पड़ना तय है.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब कैबिनेट में तत्काल नहीं होगा फेरबदल, सीएम अमरिंदर बोले- 93% वादे पूरे, कई एजेंडे कर दिए लागू

    1966 से अब तक कोई हिंदू नहीं बना पंजाब का सीएम
    पंजाब में सिख जनसंख्‍या के बाद सबसे ज्‍यादा हिंदू जनसंख्‍या है. पंजाब के चुनावों में हिंदू जनसंख्‍या का 40 प्रतिशत वोट बैंक है. इसके बावजूद 1966 से अब तक कभी भी किसी हिंदू को पंजाब का मुख्‍यमंत्री नहीं बनाया गया है. पंजाब के हिंदू नेता जय भगवान गोयल ने कहा, बीजेपी यदि इस पर सकारात्मक फैसला करती है तो पंजाब में हम सभी एक नया इतिहास लिखने को तैयार हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज