मलेरकोटला को पंजाब का 23वां जिला बनाने के लिए कैबिनेट से मिली मंजूरी, CM अमरिंदर सिंह ने ईद पर किया था ऐलान

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

Punjab Malerkotla 23rd District: मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने हाल ही में 14 मई को ईद-उल-फितर के मौके पर मलेरकोटला को जिला बनाने का ऐलान करते हुए स्थानीय लोगों की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी की थी.

  • Share this:

चंडीगढ़. पंजाब मंत्रिमंडल (The Punjab Cabinet) ने ऐतिहासिक कस्बे मलेरकोटला (Malerkotla) को राज्य का 23वां जिला बनाए जाने को औपचारिक मंजूरी (Formal approval) दे दी, जिसका मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने पहले ही ऐलान कर दिया था. मंत्रिमंडल ने सब-तहसील अमरगढ़ (Sub-tehsil Amargarh) जो कि मलेरकोटला सब-डिवीजन का हिस्सा था, उसे भी सब-डिवीजन व तहसील बनाने की मंजूरी दे दी है.


इसके साथ ही मलेरकोटला जिले में अब तीन सब-डिवीजन मलेरकोटला, अहमदगढ़ और अमरगढ़ शामिल होंगे. जिले में 192 गांव, 62 पटवार सर्कल और 6 कानूनगो सर्कल भी शामिल होंगे. मंत्रिमंडल ने मुख्यमंत्री को 12 विभागों पुलिस, ग्रामीण विकास एवं पंचायत, सामाजिक न्याय और अल्पसंख्यक, कृषि और किसान विकास, सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, शिक्षा (प्राइमरी और सेकंडरी), रोजगार सृजन, उद्योग एवं वाणिज्य, खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले के अलावा वित्त के दफ्तरों के लिए नए पद सृजन करने पर मंजूरी देने के लिए मुख्यमंत्री को अधिकार सौंप दिए हैं.


गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने हाल ही में 14 मई को ईद-उल-फितर के मौके पर मलेरकोटला को जिला बनाने का ऐलान करते हुए स्थानीय लोगों की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी की थी. इसके अलावा लोगों की सुविधा के लिए किए गए इस फैसले का मकसद मलेरकोटला के शहरी विकास को सुनिश्चित बनाना, इस ऐतिहासिक शहर के समृद्ध विरासत को कायम रखना और इस क्षेत्र के समूचे सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देना भी है.



ऑटो रिक्शा चालकों को राहत

उधर पंजाब की परिवहन मंत्री रजिया सुल्ताना (Punjab Transport Minister Razia Sultana) ने तीन पहिया वाहन ऑटो रिक्शा चालकों को बड़ी राहत देते हुए ऐलान किया है कि तीन पहिया वाहन चालक अब ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ड्राइविंग टेस्ट के दौरान तीन पहिया ऑटो रिक्शा का प्रयोग कर सकते हैं. इससे पहले थ्री-व्हीलर चालकों का चार-पहिया वाहनों पर टेस्ट लिया जाता था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज