• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब के अगले CM पर सस्पेंस जारी, सोनिया का ऑफर ठुकराने के बाद अब राहुल गांधी से मिलने गईं अंबिका सोनी

पंजाब के अगले CM पर सस्पेंस जारी, सोनिया का ऑफर ठुकराने के बाद अब राहुल गांधी से मिलने गईं अंबिका सोनी

अंबिका सोनी खत्री हिंदू हैं और उन्होंने खुद सिख को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है. (फ़ाइल फोटो)

अंबिका सोनी खत्री हिंदू हैं और उन्होंने खुद सिख को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है. (फ़ाइल फोटो)

Punjab Congress Crisis: अंबिका सोनी ने खराब सेहत का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री पद संभालने से इनकार कर दिया. वहीं अब वह राहुल गांधी से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंची हैं. सूत्रों के मुताबिक, पार्टी आलाकमान उन्हें पंजाब की कमान अपने हाथ में लेने के लिए राजी करने की एक बार फिर कोशिश करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) में सियासी ड्रामा लगातार जारी है. कैप्टन अमरिंदर सिंह के बाद राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा इसको लेकर सस्पेंस लगातार बरकरार है. पहले खबर आई कि अंबिका सोनी (Ambika Soni) को सीएम का पदभार दिया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उनके नाम पर मुहर लगा थी और बस औपचारिकताएं ही बाकी थी. हालांकि अंबिका सोनी ने खराब सेहत का हवाला देते हुए सोनिया गांधी का यह ऑफर ठुकरा दिया. वहीं अब वह राहुल गांधी से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंची हैं और सूत्रों के मुताबिक, पार्टी आलाकमान उन्हें पंजाब की कमान अपने हाथ में लेने के लिए राजी करने की एक बार फिर कोशिश करेगा.

    ‘सिख बने पंजाब का सीएम’
    इससे पहले न्यूज़ 18 से बातचीत करते हुए अंबिका सोनी ने कहा, ‘मैंने सीएम बनने से मना कर दिया है. किसी सिख को ही पंजाब का सीएम होना चाहिए. मुझे सीएम बनने के लिए कहा गया था. मैंने शुरू से ही कहा है कि सिख सीएम होना चाहिए. देश में सिर्फ एक ही राज्य है सिखों का. वैसे आज नए सीएम का नाम तय हो जाएगा’.

    लंबा खिंच सकता है पंजाब का सस्पेंस
     सूत्र ये भी दावा कर रहे हैं कि विधायकों का अलग-अलग गुट अपने नेता का नाम सोनिया गांधी के सामने रख रहे हैं. ऐसे में आज शाम 4 बजे तक ही नए सीएम के नाम का ऐलान किया जाएगा. कहा जा रहा है कि पंजाब के अगले सीएम पद पर जारी सस्पेंस लंबा खिंच सकता है. दरअसल कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) को उत्तराधिकारी पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से अंतिम मंजूरी मिलनी बाकी है.

    इससे पहले ये तय किया गया था कि रविवार को सुबह 11 बजे होने वाली सीएलपी बैठक में चुने गए नाम को साझा किया जाएगा. सूत्रों का अब कहना है कि शाम 4 बजे राज्यपाल के साथ बैठक से कुछ मिनट पहले विधायकों को नए सीएम का नाम बताया जाएगा.

    ये भी पढ़ें:-Analysis: पंजाब के बाद अब जयपुर और रायपुर पर सभी की निगाहें, क्या गांधी परिवार लेगा कड़ा फैसला?

    बैठकों का दौर लगातार जारी
    दिल्ली से पंजाब भेजे गए पर्यवेक्षक अजय माकन और हरीश चौधरी के अलावा पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने शनिवार देर रात से ही एक होटल में कई दौर की चर्चा की. सूत्रों का कहना है कि सुखजिंदर रंधावा और सुनील जाखड़ के नेतृत्व में विधायकों के अलग-अलग ग्रुप पर्यवेक्षकों के साथ बैठक कर रहे हैं. उनके फीडबैक के आधार पर पर्यवेक्षक पार्टी नेता राहुल गांधी के साथ चर्चा कर रहे हैं.


    अंबिका सोनी के रेस से बाहर होने की यह भी बताई जा रही वजह
    कहा जा रहा है कि केंद्रीय नेतृत्व पार्टी की वरिष्ठ नेता अंबिका सोनी को राज्य की जिम्मेदारी देने के मूड में थे, लेकिन इस बीच विधायकों का गुट सुनील जाखड़ और सुखजिंदर रंधावा की पैरवी करने लगा. कहा जा रहा है कि अंबिका सोनी ने भी इस प्रस्ताव को स्वीकार करने से मना कर दिया. हालांकि सूत्रों ने कहा कि सोनिया गांधी अभी भी उन्हें मनाने की कोशिश कर रही है. बता दें कि अंबिका सोनी खत्री हिंदू हैं और उन्होंने खुद सिख को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज