नहीं थम रहा पंजाब कांग्रेस में मचा घमासान, कैप्टन अमरिंदर सिंह को रद्द करनी पड़ी कैबिनेट मीटिंग

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह. (पीटीआई फाइल फोटो)

Punjab Congress Crisis: कैबिनेट मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी के घर पर कांग्रेस के लगभग 12 विधायक और दो मंत्रियों की एक और बैठक ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की सिरदर्दी बढ़ा दी है.

  • Share this:

चंडीगढ़. कोटकपूरा व बहिबल कलां गोलीकांड (Kotkapura and Bahibal Kalan firing case) को लेकर पंजाब कांग्रेस में मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है. कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा, चरणजीत सिंह चन्नी और गुरप्रीत कांगड़ (Cabinet ministers Sukhjinder Singh Randhawa, Charanjit Singh Channi and Gurpreet Kangar) सहित राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा (Rajya Sabha member Pratap Singh Bajwa) और लुधियाना से सांसद रवनीत बिट्टू (MP Ravneet Bittu) के बीच हुई बैठक से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) के खेमे में खलबली मची हुई है.


नशा रोकने की नाकामी पर भी खफा हैं नेता

इस बैठक के बाद कैप्टन भी सक्रिय हो गए हैं और बताया जा रहा है कि उन्होंने सलाहकार भरत इंदर सिंह चाहल को कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा से बातचीत करने के लिए भी भेजा, लेकिन बात सिरे नहीं चढ़ पाई. इस बीच पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की बयानबाजी पर अंकुश लगाने में कैप्टन नाकाम रहे हैं. इसी दौरान कैप्टन ने मंत्रिमंडल में विस्तार करने का दबाव भी बनाने की कोशिश की, मगर सांसदों और कैबिनेट मंत्री के बीच हुई बैठक भारी पड़ती नजर आ रही है. बताया जा रहा है कि इस बैठक में पंजाब से नशा खत्म करने के मुद्दे पर भी चर्चा हुई. इसी मुद्दे को लेकर 2017 के विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर कांग्रेस सत्ता में आई थी.


Youtube Video

एक दैनिक अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक कैबिनेट मंत्री रंधावा ने इस बैठक में यह विरोध जताया है कि नशे को लेकर बनी एसटीएफ के प्रमुख रहे हरप्रीत सिद्धू की जांच रिपोर्ट को खुलवाने के लिए सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है. राज्यसभा सदस्य बाजवा ने कोटकपूरा गोलीकांड मामले की जांच तेजी लाने के लिए बनाई गई एसआईटी को स्थाई तौर पर फरीदकोट भेजने का सुझाव भी दिया और कहा कि इस बाबत सरकार पर दबाव बनाया जाए.


एक और बैठक ने फिर बढ़ा दी चिंता

अभी इस बैठक से मचे डैमेज कंट्रोल पर कैप्टन समर्थक काबू पाने की कोशिश कर ही रहे थे कि बीते मंगलवार को कैबिनेट मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी के घर पर कांग्रेस के लगभग 12 विधायक और दो मंत्रियों की एक और बैठक ने कैप्टन की सिरदर्दी बढ़ा दी. बताया जा रहा है कि इस बैठक के बाद आज बुधवार को होने वाली कैबिनेट बैठक को भी रद्द कर दिया गया है, जिसके बाद कैप्टन सरकार का संकट बढ़ता दिखाई दे रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज