• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब कांग्रेस का अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली बार कैप्‍टन से मिले सिद्धू, क्या कैबिनेट में फेरबदल पर बनेगी बात?

पंजाब कांग्रेस का अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली बार कैप्‍टन से मिले सिद्धू, क्या कैबिनेट में फेरबदल पर बनेगी बात?

पंजाब के अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली बार मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिले नवजोत सिंह सिद्धू. (फाइल फोटो)

पंजाब के अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली बार मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिले नवजोत सिंह सिद्धू. (फाइल फोटो)

पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के सूत्रों के मुताबिक नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) और कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने मुलाकात के दौरान कैबिनेट फेरबदल पर भी चर्चा की गई. बैठक के दौरान कैबिनेट में संभावित फेरबदल को लेकर सिद्धू ने अपना पक्ष रखा.

  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) का अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली बार नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने बुधवार को मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) के साथ मुलाकात की. चंडीगढ़ स्थिति ऑफिस में मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने आगामी विधानसभा चुनावों (Punjab Assembly Elections 2022 ) में कांग्रेस (Congress) को मजबूत करने और आगे की रणनीति तैयार करने पर चर्चा की.

    पंजाब कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक दोनों नेताओं की मुलाकात के दौरान कैबिनेट फेरबदल पर भी चर्चा की गई. बैठक के दौरान कैबिनेट में संभावित फेरबदल को लेकर सिद्धू ने अपना पक्ष रखा. इसके साथ ही बतौर पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष सिद्धू ने प्रदेश के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को एक चिट्ठी भी सौंपी. खबर है कि इस चिट्ठी में सिद्धू ने प्रदेश के तमाम मुद्दों को उठाया है, जिन्हें लेकर वो पहले भी अपनी ही पार्टी की सरकार और सीएम पर सवाल उठाते रहे हैं.

    इसे भी पढ़ें :- अमरिंदर सिंह ने PM मोदी को लिखा खत, करतारपुर कॉरिडोर को फिर से खोलने का किया आग्रह

    सिद्धू ने कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को बताया कि कांग्रेस आलाकमा ने पंजाब को लेकर जो 18 सूत्रीय कार्यक्रम तैयार किए हैं उन्‍हें जल्‍द से जल्‍द लागू करना हमारी जिम्‍मेदारी है. उन्‍होंने कहा कि ये सभी 18 सूत्रीय कार्यक्रम को जल्‍द लागू कर दिया गया तो इसका लाभ विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को मिलना तय है.सिद्धू ने कहा बतौर मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को अब कई कड़े फेसले लेने की जरूरत है.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब में बड़े प्रशासनिक फेरबदल, रातोंरात बदले गए 11 IAS समेत 54 अधिकारियों के विभाग

    कैबिनेट फेरबदल को लेकर अलग-अलग दिखी राय
    पंजाब कैबिनेट में संभावित फेरबदल को लेकर सिद्धू और कैप्टन के बीच अलग-अलग राय देखने को मिली.सिद्धू खेमे से जुड़े विधायकों का कहना है कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं ऐसे में कैबिनेट में फेरबदल से बेहतर है कि चुनावों पर ध्‍यान दिया जाए. वहीं कैप्‍टन खेमे का कहना है कि अगर किसी मंत्री की परफॉर्मेंस ठीक नहीं है तो ऐसे में कैबिनेट में फेरबदल करना गलत भी नहीं है. हालांकि कैबिनेट में फेरबदल होगा या नहीं इसका अंतिम निर्णय कैप्टन अमरिंदर सिंह ही करेंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज