पंजाब कांग्रेस की कलह दूर करने के लिए बनाई गई कमेटी आज सोनिया गांधी को देगी रिपोर्ट

पंजाब में कांग्रेस के लिए परेशानी का कारण बन रहा अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच का झगड़ा.

पंजाब में कांग्रेस के लिए परेशानी का कारण बन रहा अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच का झगड़ा.

बता दें कि पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) और नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के झगड़े को खत्‍म करने के लिए कांग्रेस ने एक कमेटी का गठन किया था. दोनों नेताओं की बीच चल रहे मतभेद को खत्‍म करने के लिए कमेटी ने चार दिन में 100 से अधिक नेताओं से उनकी राय ली.

  • Share this:

चंडीगढ़. पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) में पिछले काफी दिनों से चल रही कलह को खत्‍म करने के लिए बनाई गई कमेटी आज अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को सौंप सकती है. बता दें कि बुधवार को कमेटी ने कांग्रेस (Congress) वॉर रूप में दो बार बैठक की. इसके बाद तय किया गया कि सभी पार्टी कार्यकर्ताओं और मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) से बात करने के बाद जो निष्‍कर्ष निकला है उसकी जानकारी पार्टी आलाकमान को दे देनी चाहिए.

बता दें कि पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के झगड़े को खत्‍म करने के लिए कांग्रेस ने एक कमेटी का गठन किया था. सोनिया गांधी ने राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल को दोनों नेताओं से बात करने और उनके बीच चल रहे विवाद को जल्‍द से जल्‍द सुलझाने की जिम्‍मेदारी सौंपी थी. बता दें कि दोनों नेताओं की बीच चल रहे मतभेद को खत्‍म करने के लिए कमेटी ने चार दिन में 100 से अधिक नेताओं से उनकी राय ली.

इसे भी पढ़ें :- कांग्रेस हाईकमान के पैनल से मिले कैप्टन, मीडिया से बोले पार्टी का इंटरनल मैटर है

कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की तरफ से तैयार की गई तीन सदस्यीय पैनल से सिद्धू ने हाल ही में मुलाकात की थी. कहा जा रहा है कि कैप्टन के खिलाफ अपनी आवाज उठाने वालों में सबसे बड़ा नाम सिद्धू ही है. एएनआई के अनुसार, दूर से लगता है कि यह मुकाबला सिद्धू बनाम कैप्टन है, लेकिन असल में यह विवाद चुनावी वादों का पूरा ना किए जाने से जुड़ा है. इसमें सबसे बड़ा मुद्दा गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी का है. कांग्रेस नेताओं का मानना है कि अगर इसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई, तो पार्टी को चुनाव में भारी नुकसान होगा.


इसे भी पढ़ें :- सिद्धू को न डिप्टी सीएम बना सकते हैं और न प्रदेश अध्यक्ष- कैप्टन अमरिंदर ने कांग्रेस समिति से कहा

दो डिप्टी सीएम बनाए जा सकते हैं



पंजाब कांग्रेस में पिछले कई महीनों से चल रहे विवाद को शांत करने के लिए पार्टी राज्‍य में दो डिप्‍टी सीएम और नवजोत सिंह सिद्धू को कैंपेन कमेटी का प्रमुख बना सकती है. इसके साथ ही इस बात को लेकर भी चर्चा जोरों पर है कि नवजोत सिंह सिद्धू को एक डिप्‍टी सीएम जबकि दूसरा डिप्‍टी सीएम हिंदू दलित हो सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज