पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष बोले-अवसरवाद की राजनीति कर रहा जी-23 समूह

पंजाब कांग्रेस समिति के अध्‍यक्ष सुनील जाखड़़. फाइल फोटो

पंजाब कांग्रेस समिति के अध्‍यक्ष सुनील जाखड़़. फाइल फोटो

पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने अपनी ही पार्टी के कुछ नेताओं को अवसरवादी बता दिया है. उन्‍होंने कहा कि पार्टी के हित में काम करना चाहिए पर कुछ लोग संगठन में सुधार का विरोध कर रहे हैं , वे पार्टी के साथ साथ देश का अहित कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि देश चाहता है कि कांग्रेस संघर्ष की राजनीति में शामिल हो और आम आदमी की आवाज बुलंद करे.

  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने रविवार को कहा कि ‘समूह 23’ के असंतुष्ट नेताओं को “अवसरवाद की राजनीति” करना बंद कर देना चाहिए. उन्‍होंने दिग्‍गज नेताओं पर निशाना  साधा. जाखड़ ने कहा कि देश चाहता है कि कांग्रेस संघर्ष की राजनीति में शामिल हो और आम आदमी की आवाज बुलंद करे.

शनिवार को जम्मू में एकत्र हुए कपिल सिब्बल, गुलाम नबी आजाद, राज बब्बर और आनंद शर्मा द्वारा दिए गए बयानों पर जाखड़ ने एक वक्तव्य में कहा कि जो लोग संगठन में सुधार का विरोध कर रहे हैं, वह न केवल पार्टी बल्कि देश का अहित कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस आम नागरिकों के मुद्दे उठाती आई है, और आगे भी यह जारी रहेगा. उन्‍होंने बताया कि आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि के विरोधस्वरूप कांग्रेस ने पंजाब के राजभवन का घेराव करने की योजना बनाई है.

Youtube Video




ये भी पढ़ें  अगले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का नेतृत्व अमरिंदर सिंह करेंगे: सुनील जाखड़
हरसिमरत कौर और सनी देओल के क्षेत्रों में अकाली दल और भाजपा को सभी सीटों पर मिली हार

इसका हवाला देते हुए जाखड़ ने कहा, “आइये और मेरे साथ प्रदर्शन में भाग लीजिये.  यह आप सबके लिए एक नया सबक होगा. हम उनके लिए आवाज उठाएंगे जो राज्यसभा के आरामदायक वातावरण से दूर हैं. ” उन्होंने कहा कि पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता अवसरवाद की राजनीति कर रहे हैं और वह ऐसे समय कर रहे हैं जब कांग्रेस का हर कार्यकर्ता, दमनकारी केंद्र सरकार से ‘भारत के विचार’ की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ रहा है.



कांग्रेस ने  ‘‘2022 के लिये कैप्टन’’ मिशन शुरू
स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस पार्टी की शानदार जीत ने न सिर्फ राज्य में अमरिंदर सिंह के नेतृत्व पर फिर से मुहर लगा दी है बल्कि यह भविष्य में भी उनके नेतृत्व पर पंजाबियों के भरोसे को दर्शाता है. पार्टी ने आठ में से सात नगर निगमों में जीत दर्ज की जबकि मोगा नगर निगम में वह सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी. साथ ही पार्टी ने 109 नगर परिषदों और नगर पंचायतों में से ज्यादातर में जीत दर्ज की. जाखड़ ने खुलासा किया कि कांग्रेस ने पहले ही ‘‘2022 के लिये कैप्टन’’ मिशन शुरू कर दिया है. जाखड़ ने कहा कि राज्य में अगला विधानसभा चुनाव भी अमरिंदर की अगुवाई में लड़ा जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज