• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • PUNJAB GETS RELIEF FROM OXYGEN SHORTAGE MEDICAL OXYGEN TANKERS AIRLIFTS PUNSS

पंजाब को ऑक्सीजन किल्लत से मिली राहत, एयरलिफ्ट किए जा रहे हैं मेडिकल ऑक्सीजन टैंकर

फ़ाइल फोटो

Covid-19 Punjab: स्टेट कोविड कंट्रोल रूम से ट्रकों की यातायात पर दोहरी निगरानी रखी जा रही है और कोई भी खराबी आने की सूरत में किसी भी तरह की देरी पर नजर रखने के लिए हर ट्रक के साथ एक पुलिस कांस्टेबल भी मौजूद है.

  • Share this:
    चंडीगढ़. महामारी के इस मुश्किल समय में पंजाब के लिए एक राहत की खबर आई है. पंजाब सरकार (Punjab Government) के प्रयासों से देश के अलग अलग हिस्सों से हवाई रास्ते के द्वारा ऑक्सीजन की सप्लाई मिलनी शुरू हो गई है. स्टेट कोविड ऑक्सीजन कंट्रोल रूम (State Covid Control Room) के सदस्यों का कहना है कि 27 अप्रैल से हवाई रास्ते के द्वारा ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू हो गई है और भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) के सहयोग से हम अब तक 30 उड़ानों के जरिये कुल 804.26 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (iquid medical oxygen) प्राप्त करने में कामयाब रहे हैं.

    बाई एयर जा रह बोकारो और हजीरा प्लांटों तक खाली टैंकर
    लम्बी दूरी होने के कारण राज्य को अपना ऑक्सीजन कोटा बोकारो और हजीरा से ट्रकों के द्वारा लाने ले जाने में अक्सर काफी समय लग जाता है. इसलिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने जीवन रक्षक मेडिकल सप्लाई प्राप्त करने के लिए नए तरीकों पर विचार करने का फैसला लिया है. इसके बाद पंजाब सरकार ने चंडीगढ़ एयर बेस से बोकारो और हजीरा प्लांटों तक ऑक्सीजन टैंकर पहुंचाने और वापस सड़क मार्ग के द्वारा मंगवाने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि यह फैसला राज्य के हितों को ध्यान में रखकर लिया गया है और राज्य अपेक्षित ऑक्सीजन सप्लाई प्राप्त करने में सक्षम हुआ है.

    ऑक्सीजन कंट्रोल रूम के मुताबिक सप्लाई में और तेजी लाने के लिए हम देश के अलग अलग हिस्सों में स्थित ऑक्सीजन उत्पादन के अन्य प्लांटों के भी संपर्क में हैं और पंजाब सरकार एल.एम.ओ. ले जाने वाले ट्रकों के समय पर पहुंचने को सुनिश्चित बनाने के लिए इस पर कड़ी निगरानी रख रही है. स्टेट कोविड कंट्रोल रूम से ट्रकों की यातायात पर दोहरी निगरानी रखी जा रही है और कोई भी खराबी आने की सूरत में किसी भी तरह की देरी पर नजर रखने के लिए हर ट्रक के साथ एक पुलिस कांस्टेबल भी मौजूद है. इन सभी प्रयासों के अलावा राज्य द्वारा दो विशेष रेल गाड़ियां ऑक्सीजन ऐक्सप्रेस बोकारो और हजीरा (Oxygen Express Bokaro and Hazira) के लिए रवाना की गई हैं.