पंजाब: मोहाली में 80 बेड वाले अस्थाई कोविड अस्पताल को सरकार की मंजूरी

मोहाली में बनेगा कोविड हॉस्पिटल. (File pic)

Punjab News: 24 घंटों के अंदर मंजूरी देने के लिए जरूरी एनओसी स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध करवाए गए हैं. कोविड संकट से निपटने के लिए सभी विभाग मिलकर काम कर रहे हैं.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के मोहाली (Mohali) में अब 80 बेड वाला अस्थाई कोविड अस्पताल (Covid hospital) स्थापित होगा. मैसर्ज मोहाली मेडिकल ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड (Mohali Medical Group Private Limited) को स्व-घोषणा के आधार पर मोहाली में एक 80 बेड वाले अस्थाई अस्पताल का तुरंत निर्माण शुरू करने के लिए इस तरह की पहली सैद्धांतिक मंजूरी दी गई है.

    इन्वेस्ट पंजाब के सीईओ रजत अग्रवाल ने बताया कि इन्वेस्ट पंजाब ने सभी संबंधित विभागों के साथ तालमेल करके प्रोजेक्ट को तुरंत मंजूरी दी है और 24 घंटों के अंदर मंजूरी देने के लिए जरूरी एनओसी स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध करवाए गए हैं. कोविड संकट से निपटने के लिए सभी विभाग मिलकर काम कर रहे हैं.

    कोविड संकट से निपटने के लिए राज्य में समय पर मरीजों को इलाज मुहैया करवाकर और बेडों की क्षमता बढ़ाते हुए पंजाब सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से अस्थाई कोविड अस्पताल स्थापित करने के लिए मंजूरी देने की प्रक्रिया शुरू की है.

    मोहाली में ऐसे पहले प्रोजेक्ट को स्व-घोषणा के आधार पर आवेदन जमा करवाने के 24 घंटों के अंदर एनओसी मिल गई है. सरकारी विभागों की तरफ से राज्य में ऐसे अस्थाई कोविड अस्पताल स्थापित करने के मद्देनजर लोगों को उत्साहित करने के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर में ढील दी गई है. इसमें स्वास्थ्य विभाग, स्थानीय निकाय, आवास और शहरी विकास, पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड, लोक निर्माण और श्रम विभाग शामिल हैं.

    इन्वेस्ट पंजाब को सभी संबंधित विभागों से जरूरी एनओसी. व सैद्धांतिक मंजूरियां जारी करने के लिए नोडल कार्यालय बनाया गया है. कोई भी व्यक्ति समूह जो अस्थाई अस्पताल स्थापित करना चाहता है, सिर्फ आवेदन फार्म भरकर और स्व-घोषणा पत्र जमा करके इन्वेस्ट पंजाब को अप्लाई कर सकता है. यह सुविधा इसलिए दी गई है ताकि अस्थाई अस्पताल स्थापित के इच्छुक किसी भी व्यक्ति या समूह को बार-बार दफ्तरों के चक्कर न लगाने पड़े. इस संबंधी सैद्धांतिक मंजूरी जारी करने का अंतिम अधिकार केवल स्वास्थ्य विभाग के पास है.