होम /न्यूज /पंजाब /

पंजाब सरकार का फैसला- फिर शुरू होगा शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार

पंजाब सरकार का फैसला- फिर शुरू होगा शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार

पंजाब सरकार ने 'शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार' को फिर से शुरू करने का फैसला किया है. (Photo: NW18 Creative)

पंजाब सरकार ने 'शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार' को फिर से शुरू करने का फैसला किया है. (Photo: NW18 Creative)

देश की आजादी के 75वीं वर्षगांठ के शुभ अवसर पर पंजाब सरकार ने 'शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार' को फिर से शुरू करने का फैसला किया है. यह पुरस्कार लंबे समय से निष्क्रिय था. राज्य सरकार का कहना है कि इस पुरस्कार को फिर से शुरू करने का उद्देश्य युवाओं को सशक्त बनाने के अलावा राज्य के विकास में भागीदार बनाना है.

अधिक पढ़ें ...

एस. सिंह/चंडीगढ़ः देश की आजादी के 75वीं वर्षगांठ के शुभ अवसर पर पंजाब सरकार ने ‘शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार’ को फिर से शुरू करने का फैसला किया है. यह पुरस्कार लंबे समय से निष्क्रिय था. राज्य सरकार का कहना है कि इस पुरस्कार को फिर से शुरू करने का उद्देश्य युवाओं को सशक्त बनाने के अलावा राज्य के विकास में भागीदार बनाना है.

इसी मकसद से युवाओं के लिए चंडीगढ़ में बने युवा भवन का भी जीर्णोद्धार कर युवाओं के लिए उत्कृष्टता केंद्र के रूप में पुनर्जीवित किया जा रहा है. पंजाब के खेल एवं युवा सेवा मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने युवा सेवा निदेशालय में हुई बैठक के बाद यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भगत सिंह की विचारधारा को प्रसारित करने और प्रदेश में नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए युवाओं को तैयार करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है.

इस पुरस्कार तहत 51,000 रुपये की नकद राशि, एक पदक, एक स्क्रॉल, एक ब्लेजर और एक प्रमाण पत्र दिया जाता है. उन्होंने कहा कि सीएम भगवंत मान के दिशा निर्देशों के बाद इस पुरस्कार को शुरू करने का फैसला लिया गया है. मीत हेयर ने कहा कि शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार राज्य के प्रत्येक जिले से 15 से 35 वर्ष की आयु के दो युवाओं को दिया जाता है. युवा सेवा विभाग को आवश्यक निर्देश पहले ही दिए जा चुके हैं.

युवा कल्याण गतिविधियां, एनसीसी, एनएसएस, सामाजिक सेवाएं, सांस्कृतिक गतिविधियां, खेल, ट्रैकिंग, राष्ट्रीय एकता, रक्तदान, नशीली दवाओं के खिलाफ जागरूकता, शैक्षिक योग्यता, वीर कर्म, स्काउट्स और मार्गदर्शक और साहसिक गतिविधियां पुरस्कार प्रदान करने के लिए मानदंड हैं. मंत्री ने चंडीगढ़ में युवा भवन भवन के नवीनीकरण और पुनरुद्धार के लिए भी निर्देश दिए, जिस पर लगभग 3 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

Tags: Bhagat Singh, Bhagwant Mann, Punjab

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर