पंजाब में भी महंगी हो सकती है शराब, कोरोना सेस लगाने की सोच रही सरकार
Chandigarh-Punjab News in Hindi

पंजाब में भी महंगी हो सकती है शराब, कोरोना सेस लगाने की सोच रही सरकार
यह 10 जून से प्रभावी होगा. साथ ही 70% सेस वापस लिया जाएगा और 5% VAT बढ़ाया जाएगा. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह (CM Amarinder Singh) ने शराब ठेकेदारों के लिये बुधवार को कुछ राहत की घोषणा करते हुए कहा कि उनकी सरकार लॉकडाउन के दौरान 23 मार्च से छह मई के बीच हुए नुकसान की भरपाई के लिये लाइसेंसधारियों को मदद मुहैया कराएगी.

  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब सरकार (Punjab Government) शराब (Liquor) की बिक्री पर कोरोना उपकर (Corona Cess) लगाने पर विचार कर रही है. साथ ही उसने लॉकडाउन (Lockdown) के बीच शराबघर बंद होने के चलते हुए वास्तविक नुकसान का आकलन करने के लिये तीन सदस्यीय समिति भी गठित की है.

मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह (CM Amarinder Singh) ने शराब ठेकेदारों के लिये बुधवार को कुछ राहत की घोषणा करते हुए कहा कि उनकी सरकार लॉकडाउन के दौरान 23 मार्च से छह मई के बीच हुए नुकसान की भरपाई के लिये लाइसेंसधारियों को मदद मुहैया कराएगी. हालांकि, उन्होंने शराब की दुकानों के अनुबंध 31 मार्च, 2021 से आगे बढ़ाने से इनकार कर दिया, जो शराब ठेकेदारों की प्रमुख मांग थी. वे 37 और व्यावसायिक दिनों की मोहलत देने की मांग कर रहे थे.

होम डिलीवरी का फैसला शराब ठेकेदारों पर
सिंह ने शराब की होम डिलीवरी (Liquor's Home Delivery) के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की टिप्पणियों का हवाला देते हुए यह फैसला शराब ठेकेदारों पर छोड़ दिया है.



एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मुख्यमंत्री ने वित्त मंत्री, शिक्षा मंत्री और आवास तथा शहरी विकास मंत्री के एक मंत्रिसमूह को शराब की बिक्री पर विशेष कोरोना शुल्क लगाने के मुद्दे पर विचार करने के लिये कहा है. सिंह ने वरिष्ठ अधिकारियों की तीन सदस्यीय समिति भी गठित की है, जो लॉकडाउन के दौरान शराबघर बंद होने से हुए वास्तविक नुकसान का आकलन करेगी.



लाइसेंसधारकों के लिए व्यवस्था मुहैया कराएगी राज्य सरकार
वहीं शराब के ठेकों की समय सीमा में 31 मार्च, 2020 के बाद विस्तार किए जाने को रद्द करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने ऐलान किया कि वित्त विभाग की सिफारिशों के अनुरूप चलते हुए राज्य सरकार लॉकडाउन के 23 मार्च से 6 मई, 2020 तक के समय के दौरान पड़े घाटे के लिए लाइसेंसधारकों के लिए व्यवस्था मुहैया करवाएगी.

लॉकडाउन लागू होने के उपरांत पंजाब सरकार द्वारा बार-बार केंद्र सरकार से अपील की गई थी कि वह राज्य के कर एवं आबकारी विभाग को शराब के ठेके खोलने के लिए आज्ञा दें, क्योंकि इस स्वरूप राज्य को आबकारी से होने वाली आमदनी का नुकसान हो रहा था. केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा 1 मई, 2020 को जारी किए गए अपने पत्र में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार 4 मई, 2020 से ठेके खोलने सम्बन्धी आज्ञा दी गई. केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी इन दिशा-निर्देशों के बाद विभाग द्वारा 2020-21 की राज्य की आबकारी नीति को ध्यान में रखते हुए इन दिशा-निर्देशों को लागू करने सम्बन्धी समीक्षा की गई



ये भी पढ़ें-

भारतीय रेलवे जल्द शुरू करेगा शताब्दी और बाकी मेल-एक्सप्रेस ट्रेनें

CM केजरीवाल ने Lockdown 4.0 को लेकर जनता से मांगे थे सुझाव, मिले ऐसे जवाब
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading