पंजाब में बढ़ा ब्लैक फंगस का खतरा, 83 मामले आए सामने, 3 की मौत

पंजाब में बढ़ा ब्लैक फंगस का खतरा, 83 मामले आए सामने, 3 की मौत

पंजाब में बढ़ा ब्लैक फंगस का खतरा, 83 मामले आए सामने, 3 की मौत

शुक्रवार को मुक्तसर में एक व बठिंडा में एक मरीज की अस्पताल में ऑपरेशन के बाद मौत हो गई. उनकी दोनों आंखों की रोशनी चली गई थी. पीजीआई के डायरेक्टर प्रो. जगत राम ने बताया कि उनके यहां रोजाना 4 से 5 मरीज ब्लैक फंगस के आ रहे हैं.

  • Share this:

चंडीगढ़. पंजाब में ब्लैक फंगस (Black fungus) को महामारी (Epidemic in Punjab) घोषित करने के बाद राज्य में इस बीमारी के 83 मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हो गई है. इससे पहले पटियाला (Patiala) में दो मरीजों की संक्रमण से मौत हो चुकी है.

जानकारी के मुताबिक बीते शुक्रवार को मुक्तसर में एक व बठिंडा में एक मरीज की अस्पताल में ऑपरेशन के बाद मौत हो गई. उनकी दोनों आंखों की रोशनी चली गई थी. पीजीआई के डायरेक्टर प्रो. जगत राम ने बताया कि उनके यहां रोजाना 4 से 5 मरीज ब्लैक फंगस के आ रहे हैं. इनमें 80% पंजाब के हैं, 20% मरीज हरियाणा, हिमाचल और यूपी के हैं.

एक दैनिक अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक अभी तक सबसे ज्यादा 30 केस लुधियाना, 25 केस जालंधर, और पटियाला में ब्लैक फंगस के 10 मरीज सामने आ चुके हैं. अमृतसर में भी 3 केस सामने आ चुके हैं. बठिंडा में 16 मामले सामने आए हैं मोगा जिले में कोटईसे खां में ब्लैक फंगस का एक केस सामने आया था, जिसे चंडीगढ़ स्थित पीजीआई रेफर किया गया था.

इसे भी पढ़ें :- ब्लैक फंगस: भारत में 7 हजार से ज्यादा केस, कोरोना के साथ डरा रही है ये बीमारी
आयुष्‍मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना से होगा इलाज

कोरोना से ठीक हो चुके कई मरीज अब आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना के तहत प्राइवेट अस्पतालों में भ अपना इलाज कर सकेंगे. ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को देखते हुए छह तरह की सर्जरी आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना में शामिल करने को मंजूरी दे दी है.

इसे भी पढ़ें :- Explained: क्या है वाइट फंगस, जिसे ब्लैक फंगस से भी खतरनाक माना जा रहा है



स्वस्थ्य विभाग की ओर से राज्‍यों को लिखा गया पत्र

छह तरह की सर्जरी में एपडीक्स सर्जरी दो प्रोसयूडर, गैलबलेडर सर्जरी चार प्रसयूडर, फीसर, फिस्टुला, पायलस सर्जरी चार प्रसयूडर, हर्निया सर्जरी 10 प्रसयूडर, ओर्थोपेडिक प्रैक्चर व सर्जरी 34 प्रसयूडर, ग्लूकोमा सर्जरी फार आई एक प्रसयूडर को शामिल किया गया है 17 मई 2021 को स्वस्थ्य विभाग की तरफ से जारी पत्र में कहा गया है कि राज्य सरकार कोरोना महामारी के मद्देनजर हर जरूरी स्वास्थ्य प्रबंध कर रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज