प्रिंस हैरी से शादी करना चाहती है पंजाब की महिला, हाईकोर्ट में कहा- उन्‍हें गिरफ्तार कर भारत लाएं

प्रिंस हैरी से शादी करना चाहती है पंजाब की महिला. (Pic- Reuters)

प्रिंस हैरी से शादी करना चाहती है पंजाब की महिला. (Pic- Reuters)

महिला वकील ने अपने और प्रिंस हैरी के बीच कुछ ई-मेल का हवाला भी दिया गया है, जिसमें ई-मेल भेजने वाले ने वायदा किया है कि वो उससे जल्द ही शादी करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 6:19 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) की एक महिला वकील को ब्रिटेन के प्रिंस हैरी से प्यार हो गया है. उसका दावा है कि प्रिंस हैरी (Prince Harry) ने उससे शादी का वायदा भी किया, लेकिन फिर उसे निभाया नहीं. लिहाजा महिला वकील पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab and Haryana High Court) पहुंच गई और गुहार लगाई कि प्रिंस हैरी के खिलाफ गिरफ्तारी के वारंट जारी किए जाएं. ताकि उन्‍हें यहां लाया जा सके और उन दोनों की शादी में कोई और देरी ना हो.

आपको यह पढ़कर थोड़ा अचरज होगी, लेकिन ऐसी घटना पंजाब में हुई है. पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के सामने ये मामला आया और कोर्ट ने 8 अप्रैल को महिला वकील की याचिका खारिज करते हुए टिप्पणी की कि ये याचिका कुछ और नहीं, बल्कि प्रिंस हैरी के साथ शादी करने के लिए दिन में देखे गए सपने की तरह है. खास बात ये है कि ये महिला वकील ना तो कभी ब्रिटेन गई है और ना ही कभी इसकी प्रिंस हैरी से कोई मुलाकात हुई है.

Youtube Video


पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के जस्टिस अरविंद सिंह सांगवान की अदालत में ये अजीबो-गरीब मामला आया. एक महिला जो खुद भी पेशे से वकील हैं, उन्होंने ये याचिका दाखिल की और अदालत के सामने गुहार लगाई कि ब्रिटेन के प्रिंस हैरी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए और ब्रिटेन की पुलिस को निर्देश दिया जाए कि उनके खिलाफ एक्शन ले. महिला वकील का दावा था कि उसके साथ शादी का वायदा करने के बावजूद उसे पूरा नहीं किया गया है. लिहाजा प्रिंस हैरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट भी जारी किया जाए, ताकि उनकी गिरफ्तारी कर भारत लाया जाए और उनकी शादी में और देरी ना हो.
हालांकि हाईकोर्ट में वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई होनी थी, लेकिन महिला वकील के अनुरोध पर व्यक्तिगत सुनवाई की गई. महिला को सुनने के बाद कोर्ट ने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि ये याचिका सिर्फ प्रिंस हैरी के साथ शादी करने के लिए दिन में देखे गए सपने की तरह है. याचिका बेहद ही खराब तरीके से तैयार की गई है.

महिला वकील ने अपने और प्रिंस हैरी के बीच कुछ ई-मेल का हवाला भी दिया गया है, जिसमें ई-मेल भेजने वाले ने वायदा किया है कि वो उससे जल्द ही शादी करेगा.

अदालत ने महिला वकील से पूछा कि क्या वो कभी ब्रिटेन गई हैं. महिला ने जवाब दिया कि नहीं. उसने कहा कि उनकी बातचीत सिर्फ सोशल मीडिया और ई-मेल के जरिए ही हुई है और उसने प्रिंस चार्ल्‍स को भी कुछ संदेश भेजे हैं कि उनके बेटे प्रिंस हैरी का उसके साथ रिश्‍ता चल रहा है. कोर्ट ने कथित ई-मेल की प्रतियां देखने के बाद पाया कि वो भी असल प्रतियां नहीं हैं और उनका कुछ हिस्सा मिटाया-हटाया गया है. कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि ये सभी जानते हैं कि फेसबुक, ट्विटर जैसी सोशल मीडिया साइट्स पर नकली आईडी के साथ प्रोफाइल बनाए जाते हैं और इस तरह की बातचीत की सत्यता पर भरोसा नहीं किया जा सकता.





इस बात की पूरी संभावना है कि पंजाब के किसी गांव में ही किसी साइबर-कैफे में ये कथित प्रिंस हैरी बैठा हुआ हो, जो अपने लिए सपने देख रहा था. इन सभी तथ्यों को देखते हुए अदालत इस निष्कर्ष पर पहुंची कि इस याचिका को स्वीकार करने का कोई आधार नहीं है. अदालत सिर्फ इस बात के लिए याचिकाकर्ता के साथ संवेदना जता सकती है कि उसने इस तरह की फर्जी बातचीत को हकीकत मान लिया. लिहाजा ये याचिका खारिज की जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज