• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • हाईकोर्ट ने कहा- नशीले पदार्थों की तस्करी में निर्दोषों को फंसा रही है पंजाब पुलिस

हाईकोर्ट ने कहा- नशीले पदार्थों की तस्करी में निर्दोषों को फंसा रही है पंजाब पुलिस

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने राज्‍य में तेजी से बढ़ रहे ड्रग्‍स केस पर सख्‍त टिप्‍पणी की है. 
 (प्रतीकात्मक फोटो)

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने राज्‍य में तेजी से बढ़ रहे ड्रग्‍स केस पर सख्‍त टिप्‍पणी की है. (प्रतीकात्मक फोटो)

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने (Punjab-Haryana High Court)) सख्त टिप्पणी करते हुए कहा है कि अमृतसर (Amritsar) में ड्रग्स केस (Drugs Case) में लोगों को झूठे तरीके से फंसाने के मामले सामने आ रहे हैं. ड्रग्‍स कहां से आ रही है, इसका पता अब तक नहीं लगाया जा सका है.

  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab-Haryana High Court) ने कहा कि पंजाब के अधिकारी जानबूझकर ड्रग अपराधियों (Drug offenders) को बचा रहे हैं. हाईकोर्ट (High Court) ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा है कि अमृतसर (Amritsar) में ड्रग केस में लोगों को झूठे तरीके से फंसाने के मामले सामने आ रहे हैं. पुलिस सिर्फ ड्रग सप्लाई करने वालों को ही पकड़ पा रही है, जबकि ड्रग कहां से आ रही है इस बात का कोई पता ही नहीं है. इस कारण आरोपी बरी हो जा रहे हैं.

    ‘द ट्रिब्यून’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक हाईकोर्ट में पहुंचने वाले ड्रग में पकड़े गए फर्जी मामले 10 में से आठ पंजाब के होते हैं. यह टिप्पणी करने के बाद हाईकोर्ट ने 12 लाख ट्रामाडोल टैबलेट्स जब्त करने के मामले की जांच सीबीआई को सौंपने के आदेश जारी किए हैं. यह भी निर्देश दिए हैं कि इस तरह के मामलों में कोई बड़ा अधिकारी भी शामिल है तो उसकी भी जांच की जाए.

    इसे भी पढ़ें :- 15 अगस्त पर बड़े हमले की फिराक में आतंकवादी, निशाने पर हैं जम्मू और पंजाबः खुफिया सूत्र

    न्यायमूर्ति सांगवान ने कहा कि यह बताया गया था कि अमृतसर (ग्रामीण) पुलिस ने उच्च न्यायालय के निर्देश पर पंजाब पुलिस के एक उप-निरीक्षक और एक सहायक उप-निरीक्षक को अमृतसर में दो अलग-अलग पुलिस स्टेशनों में एक व्यक्ति की अनावश्यक रूप से तलाशी लेकर हिरासत में लेने बाद उसे गिरफ्तार किया था. न्यायमूर्ति सांगवान ने जोर देकर कहा कि इसलिए पंजाब पुलिस द्वारा दर्ज कई मामलों में विशेष रूप से अमृतसर जिले में इस अदालत में निर्दोष व्यक्तियों पर झूठे आरोप लगाए हैं. उन्होंने अपने विस्तृत आदेश में इसी तरह के मामलों में उच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेशों का भी उल्लेख किया.

    इसे भी पढ़ें :- पंजाब: आय से अधिक संपति का मामला, पूर्व DGP सैनी समेत 6 आरोपियों के 37 बैंक खाते सीज

    बड़ी मछलियों को पकड़ने के लिए नशीली दवाओं के मामलों में गहराई तक नहीं जाने के लिए पंजाब पुलिस की आलोचना करते हुए न्यायमूर्ति सांगवान ने कहा कि पंजाब राज्य में ऐसे मामलों की संख्या बढ़ रही है, जहां मुख्य रूप से एनडीपीएस अधिनियम के प्रावधानों के तहत नशीले पदार्थों के वाहक को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था. लेकिन अधिकांश मामलों में आपूर्तिकर्ता या ड्रग्स प्राप्त करने का स्रोत सामने नहीं आया. यह अंततः कई मामलों में बरी होने का कारण बना.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज