होम /न्यूज /पंजाब /पंजाब में आज से रोडवेज कर्मियों की हड़ताल, इन जिलों में बढ़ सकती हैं यात्रियों की दिक्कतें

पंजाब में आज से रोडवेज कर्मियों की हड़ताल, इन जिलों में बढ़ सकती हैं यात्रियों की दिक्कतें

PRTC, PUNBUS  के कर्मचारी आज से हड़ताल पर (फाइल फोटो)

PRTC, PUNBUS के कर्मचारी आज से हड़ताल पर (फाइल फोटो)

पंजाब में पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (PRTC), पंजाब रोडवेज (Punjab Roadways) और पनबस (Punbus) के संविदा और आउटसोर ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

     चंडीगढ़. पंजाब में पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (PRTC), पंजाब रोडवेज (Punjab Roadways) और पनबस (Punbus) के संविदा और आउटसोर्स कर्मचारियों ने सोमवार से अनिश्चित काल के लिए हड़ताल करने की घोषणा की है.  आउटसोर्स और संविदा कर्मचारी कार्रवाई समिति के सदस्य इंद्रजीत सिंह ने कहा कि सरकार ने 2017 में उनकी सेवाओं को नियमित करने के लिए एक नीति लाने का आश्वासन दिया था, लेकिन आज तक वादा पूरा नहीं हुआ.

    उन्होंने कहा ‘कर्मचारियों का शोषण किया जा रहा है क्योंकि उनके पास कम वेतन पर काम करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है. न केवल कंडक्टर और ड्राइवर, यहां तक कि प्रशासनिक कामों के लिए भी संविदा कर्मचारी पूरी तरह से हड़ताल करेंगे.’

    समिति के एक अन्य सदस्य सहजपाल सिंह ने कहा कि अधिकांश कर्मचारी पिछले 15 वर्षों से संविदा और आउटसोर्सिंग के आधार पर काम कर रहे हैं लेकिन सरकार उनकी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दे रही है. उन्होंने कहा, ‘इसके अलावा, हम परिवहन माफिया पर कड़ी जांच, समान काम और समान वेतन लागू करने और रोजाना की रिपोर्ट के बहाने कर्मचारियों के अनावश्यक उत्पीड़न को रोकने की मांग कर रहे हैं.

    परिवहन विभाग का दावा- कोई दिक्कत नहीं होगी
    वहीं पंजाब के परिवहन विभाग ने दावा किया है कि इस हड़ताल से लोगों को कोई दिक्कत नहीं होगी. सरकार ने डिप्टी कमिश्नर्स को भेजी एक चिट्ठी में कहा है कि बस डिपो की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए. जानकारी के मुताबिक पटियाला, संगरूर, बरनाला, लुधियाना, कपूरथला, मानसा, मोहाली, बठिंडा और फरीदकोट के कमिश्नर्स को चिट्ठी लिखी गई है.

    दूसरी ओर पंजाब रोडवेज के कर्मियों के हड़ताल का गलत फायदा निजी बस चालक उठाएंगे. दावा किया गया कि इस हड़ताल से 2000 बसें ठप होंगी. ऐसे में निजी बस माफिया हरियाणा, राजस्थान, बिहार, यूपी, तक जाने वाले यात्रियों से मनमाना शुल्क लेंगे. वहीं संविदा कर्मचारी यूनियन के नेता रेशम सिंह गिल ने कह कि सरकार की मनमानी के चलते आंदोलन की राह चुनी है. अगर मांगों पर फैसला नहीं किया गया तो हड़ताल और उग्र हो जाएगा.

    Tags: Chandigarh, Punjab news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें