लाल किला हिंसा: फरार लक्खा सिधाना का आरोप- पुलिस ने भाई को पीटकर किया अधमरा

लक्‍खा सिधाना ने पुलिस पर लगाया भाई को पीटने का आरोप. (Pic- News18)

लक्‍खा सिधाना ने पुलिस पर लगाया भाई को पीटने का आरोप. (Pic- News18)

26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) के बाद से दिल्ली पुलिस को अभी भी कुछ आरोपियों की तलाश है. लक्खा सिधाना इनमें से एक है. लक्खा सिधाना पर 1 लाख रुपए का इनाम भी रखा गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 10:43 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. कृषि कानूनों (Farm laws) को लेकर दिल्ली में चल रहे किसानों के संघर्ष (Kisan andolan) के दौरान 26 जनवरी को लाल किला में हुई हिंसा (Red Fort violence) मामले में फरार लक्खा सिधाना (Lakha Sidhana) ने आरोप लगाया है कि उसक चचेरे भाई गुरदीप सिंह को दिल्ली पुलिस ने अवैध तरीके से पटियाला में हिरासत में लिया और उसके साथ मारपीट की. पटियाला से दिल्ली पुलिस (Delhi Police) उसे उठाकर चंडीगढ़ ले गई जहां पर उसकी पिटाई करने के बाद उसे गंभीर अवस्था में दिल्ली छोड़ दिया गया. लक्खा और गांव के लोगों ने बीते शनिवार देर रात गुरदीप को अस्पताल में भर्ती करवाया है.

लोग बोले- दम है तो सिधाना को पकड़ो

गुरदीप के साथ की गई मारपीट को लेकर गांव के लोग दिल्ली पुलिस पर खासे भड़के हुए हैं. उनका कहना है कि पुलिस में दम है तो वह लक्खा को गिरफ्तार करके दिखाए. लक्खा के रिश्तेदारों से मारपीट करके पुलिस को कुछ भी हासिल नहीं होगा.

लक्खा सिधाना का कहना है कि उसके चाचा का लड़का गुरदीप सिंह लॉ का छात्र है. वह 8 अप्रैल को पटियाला परीक्षा देने गया हुआ था. वहां पर दिल्ली पुलिस ने उसे जबरन उठा लिया. इसके बाद उसे वे चंडीगढ़ ले गए. उसको टॉर्चर किया और बुरी तरह से पीटा गया. उसके बाद उसे अंबाला में अधमरी हालत में छोड़ गए.
कौन है लक्खा सिधाना

लक्खा सिधाना पर कई केस दर्ज थे और वो कई बार जेल की हवा भी खा चुका है. साल 2012 के विधानसभा चुनाव में उसने अपनी किस्मत भी आजमाई थी लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा था. गैंगस्टर से एक्टिविस्ट बने लक्खा सिधाना पर गणतंत्र दिवस के दिन किसानों के ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली में हिंसा फैलाने का आरोप है.





26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा के बाद से दिल्ली पुलिस को अभी भी कुछ आरोपियों की तलाश है. लक्खा सिधाना इनमें से एक है. लक्खा सिधाना पर 1 लाख रुपए का इनाम भी रखा गया है और पुलिस की फाइलों में लक्खा इस वक्त फरार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज