होम /न्यूज /पंजाब /

महिला पहलवान रौनक गुलिया, जिन्होंने सफलता की राह में शादी और मातृत्व को नहीं बनने दिया रुकावट

महिला पहलवान रौनक गुलिया, जिन्होंने सफलता की राह में शादी और मातृत्व को नहीं बनने दिया रुकावट

रौनक गुलिया छह बार स्टेट चैंपियन और तीन बार राष्ट्रीय पदक विजेता रही हैं.

रौनक गुलिया छह बार स्टेट चैंपियन और तीन बार राष्ट्रीय पदक विजेता रही हैं.

रौनक गुलिया (Rounak Gulia) छह बार स्टेट चैंपियन और तीन बार राष्ट्रीय पदक विजेता रही हैं. इतना ही नहीं, उन्होंने भारत की ओर से कुश्ती ओलंपिक ट्रायल में भी हिस्सा लिया था.

    कई सदियों पुराने मिथकों को तोड़कर आज ये भारतीय महिला एथलीट पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर भारत देश का नाम रोशन कर रही हैं. यह उन महिलाओं के लिए एक रोल मॉडल हैं, जो
    शादी या मातृत्व जैसी सभी बाधाओं के चलते अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाती. हम बात कर रहे हैं राष्ट्रीय स्तर की पदक विजेता-भारत केसरी महिला पहलवान रौनक गुलिया की.

    रौनक गुलिया छह बार स्टेट चैंपियन और तीन बार राष्ट्रीय पदक विजेता रही हैं. इतना ही नहीं, उन्होंने भारत की ओर से कुश्ती ओलंपिक ट्रायल में भी हिस्सा लिया था. हरियाणा के गुड़गांव जिले की रहने वाली रौनक ने मात्र 13 साल की उम्र में अपने माता-पिता को खो दिया था.

    एक पेशेवर पहलवान बनने के लिए रौनक ने कड़ी मेहनत की. 2018 में रौनक ने भारत केसरी का खिताब जीता, और बाद में लगातार तीन सालों तक राष्ट्रीय कुश्ती टूर्नामेंट में दो कांस्य और एक रजत पदक जीता.

    हाल ही में, रौनक ने अक्षय कुमार और विद्युत जामवाल के साथ एक रियलिटी शो- इंडियाज अल्टीमेट वॉरियर में भी अपना हुनर ​​दिखाया. यह शो बेस प्रोडक्शन के तहत डिस्कवरी चैनल और डिस्कवरी प्लस ऐप पर प्रसारित किया गया था. रौनक गुलिया ने हाल ही में रैपिड न्यूट्रिशन नाम से एक सप्लीमेंट ब्रांड भी लॉन्च किया है.

    अगली ख़बर